scorecardresearch
 

केजरीवाल की काम करने की नीयत नहीं, सिर्फ आरोप लगाते हैं: गौतम गंभीर

गौतम गंभीर ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगा दिया है कि उनकी तरफ से कोरोना से लड़ने के लिए कोई तैयारी नहीं की गई. गौतम कहते हैं कि सीएम केजरीवाल की काम करने की नीयत ही नहीं है.

गौतम गंभीर का केजरीवाल पर निशाना ( पीटीआई फोटो) गौतम गंभीर का केजरीवाल पर निशाना ( पीटीआई फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गौतम गंभीर का केजरीवाल पर निशाना
  • गौतम ने मांगा केजरीवाल का रिपोर्ट कार्ड

कोरोना काल में दिल्ली सरकार और केंद्र के बीच कई बार तल्ख रिश्ते देखने को मिले. कई मुद्दों पर केंद्र और आप के बीच तू-तू मैं-मैं होती दिख गई और बढ़ती सियासत की वजह से जनता मदद के लिए भटकती रही. क्या ऑक्सीजन, क्या वैक्सीन और अब क्या राशन, हर मुद्दे पर टकराव देखने को मिला और सिर्फ आरोप-प्रत्यारोप का खेल चलता रहा. अब पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने इन्हीं मुद्दों पर आजतक से खास बातचीत की है.

सिर्फ केंद्र पर आरोप लगाते केजरीवाल: गंभीर

उन्होंने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगा दिया है कि उनकी तरफ से कोरोना से लड़ने के लिए कोई तैयारी नहीं की गई. गौतम कहते हैं कि सीएम केजरीवाल की काम की नीयत ही नहीं है. वे सब कुछ सिर्फ सेंटर पर छोड़ना चाहते हैं. वे एक ऐसे मुख्यमंत्री हैं जो हर मुद्दे पर सिर्फ केंद्र पर आरोप मढ़ते हैं. उन्होंने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया. हर घर में ऑक्सीजन सिलेंडर लगाने की बात कही थी, लेकिन वे नहीं लगा पाए. उन्होंने अपने मोहल्ला क्लीनिक को वर्ल्ड क्लास बताया था, लेकिन वहां पर एक कोरोना टेस्ट नहीं हो सका. हर बार सिर्फ झूठे वादे हुए और महामारी के दौर में राजनीति की गई.

गौतम ने मांगा केजरीवाल का रिपोर्ट कार्ड

गौतम गंभीर ने जोर देकर कहा कि केजरीवाल की झूठी राजनीति से अब दिल्ली की जनता थक चुकी है. उनके मुताबिक सीएम ने अपनी सरकार के 6 साल का रिपोर्ट कार्ड नहीं दिया है, वे कोरोना काल के दो महीनों का रिपोर्ट कार्ड भी नहीं दिखा पाए हैं. जो भी वादे किए गए, उन्हें नहीं निभाया गया. गौतम की माने तो केजरीवाल ने केंद्र पर आरोप तो लगाए, लेकिन कोरोना से लड़ने के लिए कुछ नहीं किया. उसी वजह से कई लोग बेड और ऑक्सीजन के लिए तरसते रहे.

क्लिक करें- केजरीवाल से इस्तीफ़ा मांगने के बाद बोले गंभीर- जरूरतमंद मेरे ऑफिस से लें फैबिफ्लू 

वैक्सीन पर गंभीर की क्या पहल है?

वैसे दिल्ली में वैक्सीन को लेकर सियासत तेज है, लेकिन गौतम गंभीर अपनी तरफ से जरूर फ्री में टीका लगाने का काम कर रहे हैं. उनकी तरफ से मदद तो की जा रही है, लेकिन इस पर भी कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं. अभी इस समय सरकार की तरफ से फ्री में टीका लगाया जा रहा है, वहीं प्राइवेट अस्पतालों को भी 25% वैक्सीन दी गई है. ऐसे में गौतम गंभीर किस तरह से मदद करने जा रहे हैं? इस बारे में सांसद ने कहा है कि उन्होंने एक प्राइवेट अस्पताल से टाइ अप किया है. बकायदा वहां से वैक्सीन खरीदी गई हैं और उन्हें फ्री में लगाया जाएगा. गंभीर ने इस बात पर जोर दिया है कि टीकाकरण पर राजनीति नहीं हो सकती है और महामारी पर जीत हासिल करने के लिए सभी को समय रहते टीका लगना जरूरी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें