scorecardresearch
 

केजरीवाल के खिलाफ कपिल मिश्रा ने विधानसभा अध्यक्ष को लिखी चिट्ठी

मैं, कपिल मिश्रा, विधायक, करावल नगर विधानसभा आपको सूचित करना चाहता हूं कि मेरे पास दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल और मंत्री श्री सत्येंद्र जैन के द्वारा किये गए भ्रष्टाचार से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज हैं.

कपिल मिश्रा कपिल मिश्रा

देश के इतिहास में शायद ऐसा पहली बार हो रहा हो जब किसी सत्तारूढ़ दल का विधायक ही अपने मुख्यमंत्री और मंत्री के भ्रष्टाचार के सबूत विधानसभा के पटल पर रखने की अनुमति मांग रहा हो. जी हां, अरविन्द केजरीवल से बगावत कर चुके कपिल मिश्रा ने इस बाबत दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष को एक चिठ्ठी लिखी है. चिट्ठी में उन्होंने मंत्री सत्येंद्र जैन और मुख्यमंक्षी अरविंद केजरीवाल के खिलाफ सबूत विधानसभा पटल पर रखने और भ्रष्टाचार पर विशेष सत्र बुलाने की मांग की है.

पढिए कपिल मिश्रा की चिट्ठी

27 जून 2017  

सेवा में,

श्री रामनिवास गोयल जी
अध्यक्ष
दिल्ली विधानसभा



विषय - मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल और मंत्री श्री सत्येंद्र जैन के भ्रष्टाचार से संबंधित सबूत विधानसभा के पटल पर रखने व इनके द्वारा किये गए भ्रष्टाचार पर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने हेतु

आदरणीय अध्यक्ष महोदय,

मैं, कपिल मिश्रा, विधायक, करावल नगर विधानसभा आपको सूचित करना चाहता हूं कि मेरे पास दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल और मंत्री श्री सत्येंद्र जैन के द्वारा किये गए भ्रष्टाचार से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज हैं.

इन दस्तावेजों में मंत्री सत्येंद्र जैन द्वारा अर्जित करोड़ों की बेनामी संपत्ति के सबूत, हवाला द्वारा लिया पैसा, काले धन को सफेद करने से संबंधित डाक्यूमेंट्स हैं. साथ ही PWD विभाग द्वारा मुख्यमंत्री के रिश्तेदारों को फर्जी बिलों के माध्यम से करोड़ों का payment करने के दस्तावेज भी हैं. मेरे पास CNG किट में घोटाले, एम्बुलेंस की खरीद में हुए घोटाले और दवाइयों की उपलब्धता में जो गड़बड़ियां हुईं उनसे संबंधित दस्तावेज भी हैं.

आदरणीय अध्यक्ष महोदय मेरे पास आम आदमी पार्टी द्वारा फर्जी कंपनियों से चंदा लेने, इन फर्जी कंपनियों में कुछ विधायकों का पैसा लगने के दस्तावेज भी हैं. मेरे पास यह भी दस्तावेज है कि कैसे मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी ने एक हवाला ऑपरेटर का वीडियो शेयर किया और बाद में उस व्यक्ति ने काला धन होने की बात मानी. मेरे पास नोटबंदी के समय जिन लोगों के पास से करोड़ों रुपए का काला धन मिला उन लोगों के ही द्वारा आम आदमी पार्टी को चंदा देने के सबूत भी हैं.

यह सब कुल मिलाकर लगभग 16,000 पन्नों के दस्तावेज मैं दिल्ली विधानसभा के पटल पर रखने के लिए आपकी अनुमति चाहता हूं.

मैं यह भी निवेदन करता हूं कि इस प्रकार देश में किसी भी मुख्यमंत्री और मंत्री के खिलाफ सबूतों को विधानसभा के पटल पर रखने के लिए पहली बार कोई सत्तारूढ़ दल का विधायक स्वयं इच्छा जता रहा है. भ्रष्टाचार के खिलाफ यह एक निर्णायक व ऐतिहासिक कदम होगा.

आपसे अनुरोध है कि इन सभी दस्तावेजों और सबूतों को विधानसभा के पटल पर रखने की अनुमति प्रदान की जाए. आपसे ये भी अनुरोध है कि श्री अरविंद केजरीवाल और श्री सत्येंद्र जैन द्वारा किये गए भ्रष्टाचार पर दिल्ली की विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाए. इस विशेष सत्र को रामलीला मैदान जैसे किसी ऐसे स्थान पर बुलाया जाए जहां दिल्ली की जनता भी प्रत्यक्ष रूप से इस सत्र को देख सके.  

आशा है, देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ एक निर्णायक कदम आप उठाएंगे और मेरे इस अनुरोध को स्वीकार करेंगे.

आपकी अनुमति की प्रतीक्षा में.

आपका

कपिल मिश्रा
विधायक

करावल नगर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें