scorecardresearch
 

अनलॉक के साथ फिर बेपरवाह हुई दिल्ली, बाजारों में बगैर मास्क घूम रहे लोग

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली भले ही अनलॉक हो गई हो, लेकिन लोगों ने अब भी लापरवाही दिखाना बंद नहीं किया है. बड़ी संख्या में लोग दिल्ली के बाजारों में बिना मास्क पहने घूम रहे हैं. सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन बहुत कम ही लोग कर रहे हैं.

बाजारों में बगैर मास्क घूम रहे हैं लोग बाजारों में बगैर मास्क घूम रहे हैं लोग
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बाजार में बिना मास्क पहने घूम रहे लोग
  • सोशल डिस्टेंसिंग का भी नहीं कर रहे पालन
  • कोरोना की दूसरी लहर के बाद भी लापरवाह हैं लोग

कोरोना की दूसरी लहर में 49 दिनों तक लॉकडाउन झेलने वाली दिल्ली भले ही अनलॉक हो गई हो, लेकिन लोग इतनी तबाही के बाद भी सबक लेते नजर नहीं आ रहे हैं. दिल्ली की भीड़-भाड़ वाली मार्केट में आज भी लोग बेपरवाह बगैर मास्क के घूमते दिखाई दे रहे हैं. दिल्ली का सदर बाजार हो या फिर एशिया की सबसे बड़ी मार्केट गांधी नगर, लोग कोरोना के खतरे को समझ नहीं रहे हैं.

दिल्ली के अलग-अलग बड़े बाजार जैसे ही अनलॉक हुए, बाजारों में भीड़ एक बार फिर से आनी शुरू हो गई. लोग इन बाजारों में 2 गज की दूरी या फिर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नहीं दिखाई दे रहे हैं. दुकानदार हो फिर खरीदार, हर कोई बेपरवाह हो गया है और यह आलम तब है जब देश में महीनेभर में ही हजारों लोगों की मौत कोरोना से हो गई हो. दूसरी लहर के दौरान, लोगों को बेड नहीं मिले और ऑक्सीजन की भी काफी किल्लत हुई, लेकिन इसके बावजूद भी लोग अनलॉक होने के बाद सबक नहीं ले रहे हैं.

एशिया की सबसे बड़ी गांधी नगर मार्केट के कारोबारियों की मानें तो उनका कहना है कि दिल्ली अनलॉक हो चुकी है. मार्केट में लोकल ही नहीं, बल्कि दिल्ली के आसपास राज्य से भी लोग खरीदारी करने के लिए आ रहे हैं. दिल्ली सरकार और प्रशासन को अब सड़कों पर नहीं, बल्कि मार्केट में घूम कर लोगों के बीच अवेयरनेस फैलाने की जरूरत है.

सुभाष रोड गांधी नगर मार्केट के कारोबारी संजीव शर्मा का कहना है कि जब लॉकडाउन था और लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे थे, तब सिविल डिफेंस के लोग सड़कों पर लोगों के दो हजार के चालान काट रहे थे. ऐसे में अगर कोरोना की तीसरी लहर को रोकाना है तो सरकार को सिविल डिफेंस वॉलेंटियर को अब इन मार्केट में तैनात करना होगा, ताकि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और मास्क लगाएं. अगर कोई नियम का पालन नहीं करता तो उसका चालान भी काटा जाना चाहिए.

ऐसा ही कुछ आलम दिल्ली के सदर बाजार का भी है. फेडरेशन ऑफ सदर बाजार ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट राकेश यादव की मानें तो मार्केट के अंदर ऑडिबल फॉर्मूले का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है. इसके अलावा मार्केट एसोसिएशन की तरफ से दुकानदारों को सख्त आदेश दिया गया है कि अपनी दुकान में दो ग्राहकों से ज्यादा किसी को ना आने दें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें