scorecardresearch
 

रेप और छेड़खानी की बढ़ती घटनाओं के खिलाफ छात्रों ने किया प्रदर्शन

दिल्ली विश्वविद्यालय नॉर्थ कैंपस में स्टूडेंट्स ने लगातार बढ़ते रेप और छेड़खानी जैसी घटनाओं के विरोध और इस पर अंकुश लगाने के लिए प्रदर्शन किया.

 रेप और छेड़खानी जैसी घटनाओं के विरोध में स्टूडेंट्स ने किया प्रदर्शन रेप और छेड़खानी जैसी घटनाओं के विरोध में स्टूडेंट्स ने किया प्रदर्शन

लगातार बढ़ते रेप और छेड़खानी जैसी घटनाओं के विरोध में दिल्ली विश्वविद्यालय नॉर्थ कैंपस में स्टूडेंट्स ने प्रदर्शन किया.

दिल्ली विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन से यह मार्च आर्ट फैकल्टी तक पहुंचा. दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने इस मार्च का नेतृत्व किया.

मार्च के दौरान छात्रों के हाथों में 'रेप रोको', 'आवाज उठाओ', 'लड़कियों को सुरक्षा दो', 'दिल्ली को सेफ बनाओ' जैसे नारे लिखे हुए पोस्टर थे.

इस दौरान स्वाति मालीवाल ने कहा कि वह बीते कई दिनों से अपने घर नहीं गई हैं, दफ्तर में ही हैं. वह महिलाओं की सेफ्टी को लेकर केंद्र सरकार से भी मिल चुकी हैं. ऐसी घटनाओं को रोकने की वह तमाम प्रयास कर रही हैं लेकिन खास सफलता नहीं मिल रही.

प्रदर्शन करती लड़कियों ने कहा कि हमारी सेफ्टी बहुत बड़ी समस्या है, उन्हें दिल्ली विश्वविद्यालय में आए दिन छेड़खानी जैसी घटनाओं से जूझना पड़ता है.

रेप रोको मुहिम की शुरुआत

स्वाति मालीवाल ने इस दौरान एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया और साथ ही एक वेबसाइट भी जारी की इसके जरिए दिल्ली की सभी लड़कियां एक मंच पर जुड़ सकती हैं. दिल्ली में बढ़ रहे रेप की वारदातों को लेकर ज्यादातर छात्र-छात्राओं में खासी नाराजगी दिखी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें