scorecardresearch
 

ड्रोन से सड़क पर नजर रखेगी दिल्ली पुलिस

दिल्ली पुलिस राजधानी की सड़कों पर नजर रखने के लिए अब ‘नाइट विजन’ कैमरा से लैस ड्रोन ‘नेत्र’ का उपयोग करेगी. बीएसएफ, सीआरपीएफ जैसी सुरक्षा एजेंसियां उग्रवाद विरोधी गतिविधियों की निगरानी के लिए इस ड्रोन का उपयोग कर रही हैं, जबकि एनडीआरएफ ने पिछले साल उत्तराखंड में आई भीषण बाढ़ के दौरान जीवित लोगों का पता लगाने के लिए इसका इस्तेमाल किया था.

Symbolic Image Symbolic Image

दिल्ली पुलिस राजधानी की सड़कों पर नजर रखने के लिए अब ‘नाइट विजन’ कैमरा से लैस ड्रोन ‘नेत्र’ का उपयोग करेगी. बीएसएफ, सीआरपीएफ जैसी सुरक्षा एजेंसियां उग्रवाद विरोधी गतिविधियों की निगरानी के लिए इस ड्रोन का उपयोग कर रही हैं, जबकि एनडीआरएफ ने पिछले साल उत्तराखंड में आई भीषण बाढ़ के दौरान जीवित लोगों का पता लगाने के लिए इसका इस्तेमाल किया था.

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) और मुबंई स्थित निजी कंपनी ‘आईडियाफोर्ज’ ने संयुक्त रूप से इस ड्रोन का विकास किया है. इस ड्रोन की एक झलक आमिर खान की फिल्म ‘3 ईडियट्स’ में दिखाई दी थी.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘हम हर संभावना के साथ ‘नेत्र’ का इस्तेमाल करेंगे. हमने इसे बनाने वालों से हमारी आवश्यकतानुसार बदलाव करने को कहा है.’ उन्होंने कहा, ‘वर्तमान मॉडल काफी महंगा है, क्योंकि उसमें केवलर लगा हुआ है जिसकी शहर में हमें कोई जरूरत नहीं है. दूसरा.. विंड शील्ड और हर-मौसम में उपयोगी आईबीएम टफपैड हमारी जरूरत नहीं है. इसलिए इन्हें छोड़ा जा सकता है ताकि कीमत कुछ कम हो जाए और वह हमारी जरूरतों के हिसाब से भी सही होगा.’

दिल्ली पुलिस जल्दी ही इन ड्रोन का उपयोग अंधेरी सड़कों और जहां ज्यादा अपराध होते हैं उन स्थानों की निगरानी के लिए करने वाली है. परियोजना को अगले महीने उत्तरी जिले में शुरू किया जाना है. संयोग से इसी इलाके में पिछले शुक्रवार को उबर कैब रेप कांड हुआ था.

- इनपुट भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×