scorecardresearch
 

दिल्‍ली: सामने आया मदनगीर में कत्ल का CCTV फुटेज, पुलिस ने 5 को पकड़ा

दोपहर का वक्त, समय 03 बजकर 4 मिनट और 50 सेकेंड. राजधानी दिल्ली का मदनगीर इलाका, लोगों की भीड़ और भीड़ के ऊपर कैमरा. अचानक बाजार में कुछ लड़कों का ग्रुप सामने आता है और देखते ही देखते एक युवक पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला होता है. धूल में लिपटी सड़क खून से सन जाती है और फिजा चीख-पुकार की आंधी से सराबोर हो उठती है.

वारदात का सीसीटीवी फुटेज वारदात का सीसीटीवी फुटेज

दोपहर का वक्त, समय 03 बजकर 4 मिनट और 50 सेकेंड. राजधानी दिल्ली का मदनगीर इलाका, लोगों की भीड़ और भीड़ के ऊपर कैमरा. अचानक बाजार में कुछ लड़कों का ग्रुप सामने आता है और देखते ही देखते एक युवक पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला होता है. धूल में लिपटी सड़क खून से सन जाती है और फिजा चीख-पुकार की आंधी से सराबोर हो उठती है.

सिनेमाई पर्दे पर संजय दत्त की फिल्मों से लेकर 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' तक आपने ऐसे कई दृश्य देखे होंगे. तालियां भी बजाई होंगी. किसी का खौफ आपका मनोरंजन बन गया होगा, लेकिन यहां कैमरे में जो दर्ज हुआ वह सिनेमा नहीं था. दरअसल, यह एक तमाचा है, शासन पर, प्रशासन पर और हर उस शख्स के गालों पर जो मंगलवार को उस बाजार में मौजूद था और जिसकी रूह में किसी को मरते देख भी कोई सिहरन नहीं हुई.

राष्ट्रीय राजधानी के मदनगीर इलाके में मंगलवार को हुई हत्या का जो सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, वह यह दिखाता है कि अपराधियों को न तो पुलिस का डर है न ही कानून का खौफ. तभी तो वह दिनदहाड़े युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या करते हैं और फिर तमंचों से फायरिंग करते हुए फरार हो जाते हैं. इस पूर मामले का सबसे सनसनीखेज सच यह है कि अपराध को अंजाम देने वाले अधि‍कतर आरोपी नाबालिग हैं.

क्या हुआ मंगलवार को... वाया CCTV
बुधवार को जारी सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, दोपहर के वक्त मदनगीर के सेंट्रल मार्केट में अचानक सामने की तरफ से 5-6 लड़के हाथों में चाकू और तमंचे लेकर भागकर आते दिखते हैं. वे दूसरी तरफ से मोटरसाइकिल पर सवार एक युवक पर हमला बोलते हैं. मोटरसाइकिल पर दो युवक सवार हैं, लेकिन हमले के बाद मोटरसाइकिल गिर जाती है और मोटरसाइकिल पर बैठा दूसरा युवक अपनी जान बचाकर भाग जाता है. बदमाश बाइक सवार उस लड़के पर एक के बाद एक ताबड़तोड़ चाकुओं से हमला शुरू कर देते हैं. युवक लड़खड़ाता हुआ अपनी जान बचाने की कोशिश में इधर-उधर भागता है, लेकिन 5 -6 लड़कों के सामने वह अकेला बेसहारा नजर आता है. बदमाश सचिन नाम के युवक की चाकुओं से गोदकर ह्त्या कर देते हैं और फिर तमंचों से फायरिंग करते हुए फरार हो जाते हैं.

...और बुत बने प्रत्यक्षदर्शी
सीसीटीवी फुटेज में घटना के वक्त बाजार में कई लोगों को आसपास खड़े देखा जा सकता है. लेकिन इंसानित दगा दे जाती है और कोई भी सचिन की मदद के लिए आगे नहीं आता. तभी तो महज 40 सेकेंड के अंदर बदमाश वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं. मामले में ताजा अपडेट मिलने तक पुलिस ने बुधवार शाम तक सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 5 लड़कों को पकड़ा है. बताया जाता है कि इनमें अधि‍कतर नाबालिग हैं. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, सचिन अपने घर का इकलौता बेटा था और उसकी 6 बहन है. घर के चिराग को खोकर घरवालों का बुरा हाल है, वहीं पुलिस शुरुआती धड़-पकड़ के बाद अभी भी चिराग लेकर जांच में जुटी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें