scorecardresearch
 

दिल्ली: नाइट कर्फ्यू में किसे छूट, किसे चाहिए ई-पास, कहां से बनेगा? जानें हर सवाल का जवाब

कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच दिल्ली में नाइट कर्फ्यू लग गया है. नाइट कर्फ्यू को लेकर क्या नियम हैं, क्या खुला रहेगा और क्या बंद रहेगा. इससे जुड़े सभी सवालों का जवाब यहां जानें... 

दिल्ली में लग गया है नाइट कर्फ्यू (फोटो: PTI) दिल्ली में लग गया है नाइट कर्फ्यू (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में कोरोना केस बढ़ने से संकट
  • राजधानी में लगाया गया नाइट कर्फ्यू
  • 30 अप्रैल तक नियमों का पालन जरूरी

देश में कोरोना का संकट बढ़ा तो हर जगह सख्ती भी बढ़ने लगी. राजधानी दिल्ली में बीती रात से नाइट कर्फ्यू शुरू हो गया है. 30 अप्रैल तक दिल्ली में नाइट कर्फ्यू रहेगा, इस दौरान रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक सड़कों पर सख्ती रहेगी. अगर आपके पास इजाजत नहीं है, तो रात को बाहर निकलने पर आप पर एक्शन हो सकता है. नाइट कर्फ्यू को लेकर क्या नियम हैं, क्या खुला रहेगा और क्या बंद रहेगा. इससे जुड़े सभी सवालों का जवाब यहां जानें... 

कब से कब तक लागू है नाइट कर्फ्यू?
दिल्ली में 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है. ये रात को दस बजे से सुबह 5 बजे तक लागू होगा. 

किन लोगों को मिल रही है छूट?
नाइट कर्फ्यू के दौरान स्वास्थ्य, आपदा नियंत्रण, पुलिस, सिविल डिफेंस, फायर सर्विस, जिला प्रशासन, अकाउंट, बिजली विभाग, पानी और साफ सफाई तथा हवाई रेल और बस से जुड़े सरकारी अधिकारी, दिल्ली सरकार के अधिकारी और ऑटोनॉमस बॉडीज व कॉरपोरेशन के सभी कर्मचारियों अधिकारियों को छूट रहेगी.

इनके अलावा सभी प्राइवेट मेडिकल स्टाफ, डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, पैरामेडिकल स्टाफ, डायग्नोस्टिक सेंटर, क्लीनिक आदि से जुड़े लोगों को भी छूट मिलेगी. साथ ही गर्भवती महिला और मरीजों के लिए भी छूट रहेगी.

और किन लोगों को मिलेगी राहत?
अति जरूरी क्षेत्र से जुड़े लोगों के अलावा एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस अड्डा जा रहे या वहां से आ रहे लोगों को वैलिड टिकट दिखाने पर छूट मिलेगी. अन्य देशों के डिप्लोमेट ऑफिस से जुड़े लोगों को वैलिड आइकार्ड दिखाने पर इन पाबंदियों से छूट मिलेगी. अन्य राज्यों से आ रहे जरूरी और गैर जरूरी सामानों के आवागमन पर पाबंदी नहीं रहेगी. इनके लिए किसी तरह का ई-पास जरूरी नहीं होगा. 

दिल्ली में नाइट कर्फ्यू का नज़ारा (फोटो: PTI)


किन लोगों के लिए ई-पास जरूरी है?
नाइट कर्फ्यू के दौरान बाहर निकलने के लिए कुछ लोगों को ई-पास की सुविधा भी दी गई है. ई-पास के साथ राशन, किराना, फल-सब्जी, दूध, मीट-मछली, पशुओं के खाने की दुकानें, दवा दुकानों पर काम करने वाले लोग ट्रैवल कर सकते हैं. इसके साथ ही कोरोना वैक्सीन लगवाने जा रहे लोग भी ई-पास ले सकते हैं.

इनके अलावा बैंक, इंश्योरेंस ऑफिस, एटीएम, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, इंटरनेट सर्विस, आईटी ब्रॉडकास्टिंग और केबल से जुड़े लोग भी ई-पास का लाभ उठा सकते हैं.

इन सर्विस के अलावा खाने और दवा जैसी सभी जरूरी सामानों की ई-कॉमर्स डिलीवरी, पेट्रोल पंप एलपीजी, सीएनजी और इसके रिटेल आउटलेट, पावर जेनरेशन, ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन यूनिट, कोल्ड स्टोरेज और वेयरहाउस सर्विस, प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस और सभी जरूरी सामानों की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट में काम करने वाले लोग भी ई-पास बनवा सकते हैं. 

कहां से बन पाएगा ई-पास?
नाइट कर्फ्यू में घर से बाहर निकलने की परमिशन के लिए दिल्ली सरकार की वेबसाइट www.delhi.gov.in पर जाकर पास के लिए अप्लाई किया जा सकेगा. इसके अलावा जिला प्रशासन भी ई-पास जारी करेगा.

सिर्फ छूट वाले लोग ही कर सकेंगे मेट्रो की सवारी
दिल्ली मेट्रो, बस, ऑटो, टैक्सी जैसी सार्वजनिक परिवहन सुविधाएं अपने तय समय के हिसाब से चल सकेंगी. लेकिन उनमें केवल उन्हें ही आने जाने की अनुमति होगी जिन्हें नाइट कर्फ्यू के दौरान छूट मिली हो.

सभी जिलाधिकारी व डीसीपी को इन पाबंदियों को सख्ती से लागू कराने का आदेश दिया गया है. जो भी इन आदेशों का पालन नहीं करता है, उनके खिलाफ DDMA एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी. गौरतलब है कि दिल्ली में बीते कुछ वक्त से कोरोना के केसों की संख्या बढ़ने लगी है. बीते दिन ही दिल्ली में पांच हज़ार से अधिक केस सामने आए हैं. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें