scorecardresearch
 

Delhi Mundka Fire: मुंडका अग्निकांड में बिल्डिंग का मालिक अरेस्ट, आग लगने के बाद क्रेन से उतरकर हो गया था फरार

Delhi Mundka Fire: मुंडका में आग लगने के दौरान मनीष अपने परिवार के साथ इमारत की ऊपरी मंजिल पर था और क्रेन की मदद से परिवार समेत नीचे आ गया था. आग लगने के बाद से मनीष फरार हो गया था.

X
दिल्ली के मुंडका में हुए हादसे का बाद इमारत पूरी तरह से तबाह हो गई. दिल्ली के मुंडका में हुए हादसे का बाद इमारत पूरी तरह से तबाह हो गई.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हादसे में 27 लोगों की मौत हुई थी
  • आरोपी को पकड़ने लगातार दबिश दे रही थी पुलिस

Delhi Mundka Fire: दिल्ली के मुंडका अग्निकांड में पुलिस ने बिल्डिंग के मालिक मनीष लकड़ा को गिरफ्तार कर लिया है. घटना की जांच कर रही पुलिस ने इसकी जानकारी दी है. आग लगने के दौरान मनीष अपने परिवार के साथ बिल्डिंग की ऊपरी मंजिल पर था और क्रेन की मदद से परिवार समेत नीचे आ गया था. आग लगने के बाद से मनीष फरार हो गया था. उसे पकड़ने के लिए पुलिस की टीम लगातार दबिश डाल रही थी और आज सुबह पुलिस ने मनीष को गिरफ्तार कर लिया है. 

बता दें कि इस अग्निकांड में अबतक 27 लोगों की मौत हो चुकी है. दरअसल, जिस बिल्डिंग में हादसा हुआ, वहां दोपहर 1 बजे तक इमारत की अन्य मंजिल पर सामान्य दिनचर्या की तरह काम हो रहा था. जबकि पहली मंजिल पर कम्पनी की विशेष मीटिंग थी. 4.30 बजे इमारत की पहली मंजिल से धुआं निकलना शुरू हुआ, चारों तरफ चीख पुकार, बचने के लिए बचाव की गुहार लगाई जाने लगी. 4.45 बजे पुलिस और दमकल को आग लगने की सूचना दी गई. आग की लपटें बाहर तक निकलीं. जानकारी मिलने के 5 से 10 मिनट में पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई.

इसके बाद शाम 4.50 बजे हादसे से बचने के लिए लोग रस्सी के सहारे पहली और दूसरी मंजिल से कूदने लगे. पुलिस ने कई लोगों को स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू करवाया. शाम 5.00 बजे एक के बाद एक दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंचनी शुरू हुईं. दमकल ने आधुनिक उपकरणों का प्रयोग आग बुझाने के लिए शुरू किया. इसी दौरान लोग अपने रिश्तेदारों और परिजनों को ढूंढ़ने के लिए मौके पर पहुंच गए.

शाम 6.20 बजे करीब 45 साल की महिला का शव मिला. आग बुझाने का काम जारी था. एम्बुलेंस घायलों को स्थानीय अस्पताल में पहुंचाती रहीं. 10.50 बजे रात में आग पर काबू पाया और कूलिंग ऑपेरशन शुरू हुआ. दमकल ने कुल 16 शवों को निकालने की पुष्टि की. फिर धीरे-धीरे संख्या बढ़ती गई, इसके बाद डीसीपी ने कुल 27 मौतों की पुष्टि की.11.40 बजे एक बार फिर पहली मंजिल पर आग की लपटें दिखाई दीं. फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया.12.00 बजेः कूलिंग के साथ सर्च ऑपरेशन जारी रहा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें