scorecardresearch
 

दिल्ली: RML में नहीं बचा एक भी खाली बेड, गंगाराम अस्पताल में सुबह पहुंची ऑक्सीजन

राजधानी दिल्ली में हर दिन कोरोना के मामलों की संख्या बढ़ रही है, इसी के साथ अस्पतालों पर दबाव भी बढ़ रहा है. हालात ऐसे हैं कि दिल्ली के कई अस्पताल इस वक्त बेड्स और ऑक्सीजन की किल्लत से जूझ रहे हैं.

X
दिल्ली के अस्पतालों में बेड्स की किल्लत बरकरार (फोटो: PTI) दिल्ली के अस्पतालों में बेड्स की किल्लत बरकरार (फोटो: PTI)
4:50
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में बेड्स और ऑक्सीजन का संकट जारी
  • RML समेत कई अस्पतालों में बेड्स नहीं
  • ऑक्सीजन को लेकर भी संकट जारी

देश की राजधानी दिल्ली इस वक्त कोरोना के कहर का सामना कर रही है. हर दिन कोरोना के मामलों की संख्या बढ़ रही है, इसी के साथ अस्पतालों पर दबाव भी बढ़ रहा है. हालात ऐसे हैं कि दिल्ली के कई अस्पताल इस वक्त बेड्स और ऑक्सीजन की किल्लत से जूझ रहे हैं.

सोमवार सुबह दिल्ली के राममनोहर लोहिया अस्पताल ने जानकारी दी कि उनके अस्पताल में अब एक भी बेड खाली नहीं है. अस्पताल के बाहर चल रही टैली में नंबर शून्य ही दिखा रहा था. सिर्फ RML ही  नहीं बल्कि दिल्ली के कई सरकारी, प्राइवेट अस्पतालों का यही हाल है. 

टैली के मुताबिक, RML के पास ना आईसीयू बेड्स हैं और ना ही ऑक्सीजन बेड्स. ऐसे में अगर महासंकट के बीच दिल्ली के एक बड़े अस्पताल का ऐसा हाल है, तो काफी चिंताजनक स्थिति दिख रही है. 

RML अस्पताल के बाहर लगा बोर्ड


अगर पूरी दिल्ली का हाल देखें तो राजधानी में अभी सिर्फ 12 आईसीयू बेड्स खाली बचे हैं, ये सुबह दस बजे तक का आंकड़ा है. दिल्ली सरकार की वेबसाइट के मुताबिक, अभी 1623 ऑक्सीजन बेड्स खाली हैं.

बता दें कि सोमवार से ही दिल्ली में सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर, राधा स्वामी कोविड केयर सेंटर की शुरुआत हो रही है. जहां पर बेड्स की व्यवस्था की गई है, दोनों ही जगह अस्पतालों से मरीजों को शिफ्ट किया जाएगा और नए मरीजों की भी भर्ती होगी. 

ऑक्सीजन का संकट भी जारी...
बेड्स की कमी के साथ-साथ ऑक्सीजन का संकट भी बरकरार है. दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में सोमवार सुबह 4 टन ऑक्सीजन पहुंचा. अस्पताल ने सुबह ही जानकारी दी कि अभी अस्पताल के पास 4 हजार क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन है, जो 8 घंटे तक चल पाएगा. 

गंगाराम अस्पताल का कहना है कि उनके पास 104 सिलेंडर हैं, जो मरीजों को आईसीयू से वार्ड में शिफ्ट करने में इस्तेमाल हो रहे हैं. लेकिन सभी सिलेंडर को अब रिफिल करने के लिए भेजा है. अस्पताल को सिलेंडर्स के लिए अलग-अलग जगह पर अपील करनी पड़ रही है. 

ऑक्सीजन के संकट के बीच दिल्ली में सोमवार को राहत मिलने के आसार हैं. दरअसल, केंद्र सरकार द्वारा जो ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाई जा रही है, उसकी पहली ट्रेन सोमवार शाम को दिल्ली पहुंचेगी. छत्तीसगढ़ से करीब 70 टन ऑक्सीजन दिल्ली आ रहा है. 


 

  • ऑक्सीजन सप्लाई पर क्या देर से जागी हैं सरकारें?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें