scorecardresearch
 

दिल्लीः BJP नेता का सुझाव, अंतिम संस्कार में लकड़ी की जगह गोबर-पराली का यूज हो; MCD ने माना भी

राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण से जान गंवालों को आंकड़ा हर दिन रिकॉर्ड तोड़ने लगा है. ऐसे में श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियां तक कम पड़ने लगी हैं. इस बीच बीजेपी नेता आरपी सिंह ने सुझाव दिया कि अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी की जगह गाय के गोबर और पराली का इस्तेमाल किया जा सकता है.

दिल्ली में अब तक कोरोना से करीब 17 हजार मौतें हो चुकी हैं. (फाइल फोटो-PTI) दिल्ली में अब तक कोरोना से करीब 17 हजार मौतें हो चुकी हैं. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी प्रवक्ता आरपी सिंह ने दिया सुझाव
  • गाय के गोबर और पराली का इस्तेमाल हो
  • दिल्ली के तीनों नगर निगमों ने माना सुझाव

देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ती जा रही है. राजधानी दिल्ली में तो संक्रमण बेकाबू हो चला है. संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या भी हर दिन बढ़ती जा रही है. नतीजा ये हो रहा है कि श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियां तक कम पड़ने लगी हैं. इस बीच बीजेपी नेता और प्रवक्ता आरपी सिंह ने सुझाव दिया कि अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी की जगह गाय के गोबर और पराली का इस्तेमाल हो. बीजेपी नेता के इस सुझाव को दिल्ली नगर निगम ने मान भी लिया है. 

बीजेपी नेता आरपी सिंह ने ट्वीट कर बताया कि दिल्ली के तीनों नगर निगम- उत्तरी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली ने उनके इस सुझाव को मानकर अंतिम संस्कार के लिए गाय के गोबर और पराली के इस्तेमाल करने का मंजूरी दे दी है.

जानकारी के मुताबिक, अंतिम संस्कार के लिए गाय या भैंस का गोबर डेयरी संचालकों से मिलेगा. इसी तरह पराली की व्यवस्था भी होगी. इस काम में वेटरनरी और होर्टिकल्चर डिपार्टमेंट मदद करेगा. आरपी सिंह एक एनजीओ भी चलाते हैं और उन्हें ही इस सबकी व्यवस्था अपने खर्चे पर करना होगा.

राजधानी दिल्ली में रविवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 20,394 नए मामले सामने आए और 407 लोगों की मौत हुई. राजधानी में पॉजिटिविटी रेट भी 28% से ज्यादा है. दिल्ली में अब तक कोरोना के 11,94,946 मामले आ चुके हैं. 16,966 लोगों की मौत हो चुकी है. अभी यहां एक्टिव केसेस की संख्या 92,290 है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें