scorecardresearch
 

दिल्ली में फ्री बिजली पर नया नियम, आज से अप्लाई किए बिना नहीं मिलेगी सब्सिडी, CM केजरीवाल का ऐलान

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान किया है. दिल्ली में अब उन्हीं लोगों को बिजली सब्सिडी मिलेगी, जो इसके लिए आवेदन करेंगे. आज से ही इसके लिए आवेदन शुरू हो जाएंगे.

X
अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो) अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान किया है. दिल्ली में अब उन्हीं लोगों को बिजली सब्सिडी मिलेगी, जो इसके लिए आवेदन करेंगे. आज से ही इसके लिए आवेदन शुरू हो जाएंगे. 

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कुछ लोग फ्री बिजली नहीं लेना चाहते. ऐसे में अब दिल्ली में उन्हीं लोगों को बिजली सब्सिडी मिलेगी जो इसके लिए आवेदन करेंगे. 

1 अक्टूबर से लागू होगी सुविधा

अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में पहले बिजली बहुत जाती थी. हमने इसे ठीक किया. अब बिजली 24 घंटे मिल रही है. दिल्ली में बिजली फ्री में मिल रही है. भ्रष्टाचार रोककर जो पैसा बचाया, उससे लोगों को सुविधा दे रहे हैं. उन्होंने बताया कि दिल्ली में बिजली के 58 लाख उपभोक्ता हैं, इनमें से 30 लाख के बिजली बिल जीरो आते हैं. 17 लाख उपभोक्ता के आधे बिल आते हैं. हम उन्ही को सब्सिडी देंगे जो सब्सिडी मांगेगा. यह सुविधा 1 अक्टूबर से लागू रहेगी. 


भरना होगा फॉर्म

बिजली के बिल के साथ एक फॉर्म आएगा. बिजली के बिल केंद्र में फॉर्म जमा करना होगा. उन्होंने कहा कि हम एक नंबर (7011311111) जारी कर रहे हैं. इस नंबर पर मिस्ड कॉल करना होगा. मिस्ड कॉल पर मैसेज आएगा. इसमें एक लिंक मिलेगा. जिससे व्हाट्सप्प पर फॉर्म ओपन हो जाएगा. जिनका मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड हैं उन्हें मैसेज भी भेजे जाएंगे. 31 अक्टूबर को जितने लोग फॉर्म भर देंगे. उन्हें योजना का लाभ मिलेगा. अगले महीने में फॉर्म भरने पर पिछले महीने का बिल जमा करना होगा. उन्होंने कहा कि इसे लेकर उनकी सरकार घर घर जाकर जागरूकता अभियान चलाएगी. 

पंजाब में भी विधायक खरीदने की कोशिश की

गोवा में कांग्रेस के विधायक बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ये लोग हर राज्य में जाकर MLA खरीद रहे हैं. पंजाब में भी कोशिश की. उन्होंने पूछा कि ये पैसा कहां से आ रहा है. केजरीवाल ने कहा कि इसी वजह से महंगाई भी बढ़ रही हैं. कांग्रेस वाले क्यों टूट जाते हैं? देश ये जानना चाहता हैं. अगर MLA खरीदना है, ऐसे तो चुनाव, लोकतंत्र, संविधान का अर्थ नहीं रह जाता हैं.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें