scorecardresearch
 

AAP के अंदर नया बवाल, बैठक में हुई कानून मंत्री जितेंद्र तोमर को हटाने की मांग

आम आदमी पार्टी में अब कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर खिलाफ विरोध की आवाज उठने लगी है. शनिवार को पार्टी के पार्टी की बैठक में दिल्ली के कानून मंत्री को जल्द से जल्द हटाए जाने की मांग उठी.

जीतेंद्र सिंह तोमर (फाइल फोटो) जीतेंद्र सिंह तोमर (फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी में अब कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर खिलाफ विरोध की आवाज उठने लगी है. शनिवार को पार्टी की बैठक में दिल्ली के कानून मंत्री को जल्द से जल्द हटाए जाने की मांग उठी.

बैठक के दौरान आम आदमी पार्टी के PAC सदस्य इलियास आजमी ने तोमर को तत्काल हटाने की मांग की. आजमी ने कहा, 'आम आदमी पार्टी भी बाकी पार्टियों की तरह ही हो गई है. अगर तोमर पर आरोप है तो उन्हें तत्काल इस्तीफा देना चाहिए और पार्टी को तोमर के खिलाफ जल्द से जल्द जांच के आदेश देने चाहिए.' जाहिर है इलियास आजमी की इस मांग के बाद पार्टी के अंदर की राजनीति एक बार फिर गर्माएगी.

अभी तक विपक्ष के आरोपों का सामना कर रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भी मुसीबत बढ़ सकती है. क्योंकि इस मु्द्दे पर अब तक सिर्फ पार्टी के बाहर ही आवाज उठ रही थी. लेकिन अब पार्टी के अंदर भी अगर इस बात को लेकर असंतोष है तो केजरीवाल के लिए ये खतरे की घंटी साबित हो सकती है.

क्या है पूरा मामला
दिल्ली के कानून मंत्री पर फर्जी डिग्री रखने का आरोप लगा है. दरअसल बिहार की एक यूनिवर्सिटी ने दिल्ली हाईकोर्ट को बताया कि दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर का लॉ की डिग्री जाली है और इसका संस्थान में कोई रिकॉर्ड नहीं है.

आपको बता दें कि तोमर ने इसी यूनिवर्सिटी से लॉ की शिक्षा प्राप्त करने का दावा किया है. बिहार के तिलक मांझी भागलपुर यूनिवर्सिटी ने अदालत के सामने अपनी जांच रिपोर्ट रखकर कहा कि अंतरिम प्रमाणपत्र में दिया गया सीरियल नंबर रिकॉर्ड में तोमर की जगह किसी दूसरे व्यक्ति का नाम दिखाता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें