scorecardresearch
 

फर्जी डिग्री मामले में हाई कोर्ट के दर पर जितेंद्र तोमर

दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र तोमर के फर्जी डिग्री मामले में नया मोड़ आ सकता है. तोमर ने मामले में बार काउंसिल की कार्यवाही के खि‍लाफ मंगलवार को हाई कोर्ट में अर्जी लगाई है.

दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र तोमर दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र तोमर

दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र तोमर के फर्जी डिग्री मामले में नया मोड़ आ सकता है. तोमर ने मामले में बार काउंसिल की कार्यवाही के खि‍लाफ मंगलवार को हाई कोर्ट में अर्जी लगाई है.

जस्टि‍स राजीव शकधर के समक्ष दाखि‍ल अपनी अर्जी में आम आदमी पार्टी के नेता ने फर्जी डिग्री मामले में दिल्ली बार काउंसिल की कार्यवाही पर रोक लगाने की अपील की है. तोमर की अर्जी पर बुधवार को सुनवाई हो सकती है. दिल्ली बार काउंसिल ने शुरुआती जांच में तोमर की डिग्री को फर्जी पाया है और इस बाबत जरूरत पड़ने पर आपराधि‍क मामला दर्ज करने की भी बात कही है.

गौरतलब है कि तोमर के मामले में केजरीवाल सरकार विपक्ष के निशाने पर है. इसके साथ ही मामले में पार्टी के अंदर से भी कानून मंत्री के खि‍लाफ आवाज उठने लगी हैं. बीते दिनों जितेंद्र तोमर ने पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखकर भी मामले में अपनी ओर से सफाई दी थी. तोमर का कहना है कि वह पूरी तरह निर्दोष हैं और उनकी डिग्री 100 फीसदी असली है.

क्या है पूरा मामला
दिल्ली के कानून मंत्री पर फर्जी डिग्री रखने का आरोप लगा है. बिहार के भागलपुर की तिलकामांझी यूनिवर्सिटी ने बीते दिनों दिल्ली हाई कोर्ट को बताया था कि कानून मंत्री की लॉ की डिग्री जाली है और इसका यूनिवर्सिटी में कोई रिकॉर्ड नहीं है.

दूसरी ओर, तोमर इसी यूनिवर्सिटी से लॉ की डिग्री होने का दावा करते हैं. यूनिवर्सिटी ने मामले में अदालत के सामने अपनी जांच रिपोर्ट पेश करते हुए कहा कि अंतरिम प्रमाणपत्र में दिया गया सीरियल नंबर रिकॉर्ड में तोमर की जगह किसी दूसरे व्यक्ति का है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें