scorecardresearch
 

एक्सिस बैंक ब्रांच मामले में पूर्व मंत्री और कई राजनेताओं पर ED का शिकंजा

एक्सिस बैंक के गिरफ्तार बैंक मैनेजरों का राजनीतिक कनेक्शन सामने आया है. गिरफ्तार मैनेजरों की सोमवार को कोर्ट में पेशी हुई. ईडी ने कोर्ट से रिमांड बढ़ाने की मांग की. बताया जा रहा है कि बैंक में चल रहे आपराधिक षंडयंत्र का भंडाफोड करने के लिए रिमांड बढ़ाने की मांग की गई है.

एक्सिस बैंक के मैनेजरों का राजनेताओं से कनेक्शन एक्सिस बैंक के मैनेजरों का राजनेताओं से कनेक्शन

राजधानी दिल्ली में अब तक बरामद पैसों में पूर्व केंद्रीय मंत्री और कई राजनेताओं के नाम सामने आए हैं. सूत्रों के मुताबिक पूर्व केंद्रीय मंत्री और कई नेता प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के शिकंजे में हैं. एक्सिस बैंक के गिरफ्तार बैंक मैनेजरों का राजनीतिक कनेक्शन सामने आया है. गिरफ्तार मैनेजरों की सोमवार को कोर्ट में पेशी हुई. ईडी ने कोर्ट से रिमांड बढ़ाने की मांग की. बताया जा रहा है कि बैंक में चल रहे आपराधिक षंडयंत्र का भंडाफोड़ करने के लिए रिमांड बढ़ाने की मांग की गई है.

सूत्रों के मुताबिक जांच में 44 बैंक खातों में अनेक खातों के खाताधारक अपने पतों पर नहीं मिले. चांदनी चौक ब्रांच मामले में आपराधिक मुकदमा दर्ज करने की तैयारी है. इस मामले में अन्य कई लोगों की गिरफ्तारी भी हो सकती है. जांच में अभी तक कई बड़े ज्वैलर्स के नाम भी सामने आए हैं. आयकर विभाग और ईडी मामले में पैसे के असली मालिक तक पहुंचने के लिए ज्वैलर्स से पूछताछ कर रहे हैं.

गौरतलब है कि आयकर विभाग की टीम ने शुक्रवार को अचानक दिल्ली के चांदनी चौक में एक्सिस बैंक की शाखा का दौरा किया. आयकर विभाग की टीम के वहां जाने से हड़कंप मच गया. आयकर अधिकारियों ने बैंक से कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज जुटाए और कुछ खातों के बारे में भी जानकारी ली गई.

आयकर विभाग के अनुसार एक्सिस बैंक 15 खातों में अब तक काले धन के रूप में कुल 70 करोड़ रुपये जमा हुए हैं. विभाग ने खुलासा किया है कि अभी तक 44 ऐसे खाते पाए गए हैं, जो बिना केवाईसी के खोले गए थे और उनमें अभी तक सौ करोड़ रुपये जमा किए गए हैं.

आयकर विभाग के मुताबिक 8 नवंबर से अब तक एक्सिस बैंक की चांदनी चौक शाखा में अभी तक कुल 450 करोड़ रुपये जमा किए गए हैं.

सूत्रों के मुताबिक पूर्व केंद्रीय मंत्री से भी ज्वैलर्स और रोहित टंडन के संबंध खंगाले जा रहे हैं. दिल्ली के पॉश ग्रेटर कैलाश इलाके की टी एंड टी लॉ फर्म के मालिक रोहित टंडन पर ईडी ने पहली बार छापा नहीं मारा बल्कि इससे पहले इस फर्म पर 2014 में छापा मारा गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें