scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, 4 नक्सलियों को किया ढेर, कई हथियार बरामद

शनिवार सुबह छत्तीसगढ़ के बीजापुर में सुरक्षाबल के जवानों के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हई. यह मुठभेड़ मिरतुर थाना क्षेत्र के पोमरा इलाके में हुई. इसे लेकर IG बस्तर पी सुंदरराज ने बीजापुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और चार नक्सलियों को मार गिराने की जानकारी दी. उन्होंने इसे बड़ी सफलता बताई है.

X
बीजापुर में सुरक्षाबल के जवानों को बड़ी कामयाबी
बीजापुर में सुरक्षाबल के जवानों को बड़ी कामयाबी

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में शनिवार सुबह सुरक्षाबल के जवानों के साथ मिरतुर थाना क्षेत्र के पोमरा में मुठभेड़ हई. इस मुठभेड़ को लेकर IG बस्तर पी सुंदरराज ने बीजापुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और चार नक्सलियों को मार गिराने की जानकारी दी. उन्होंने इसे बड़ी सफलता बताई है.

क्या थी नक्सलियों की योजना?

आईजी ने कहा कि अभी भी सर्चिंग जारी है और नक्सलियों के शव बरामद किए जा सकते हैं. आईजी ने यह भी जानकारी दी कि 40 से 50 नक्सली एक बैठक कर विकास कार्यो को प्रभावित करने का षड्यंत्र रच रहे थे. जिसकी जानकारी मिलने के बाद DRG, STF और CRPF की एक संयुक्त टीम के साथ ऑपरेशन लॉन्च किया था. 

मुठभेड़ में 4 नक्सलियों को किया ढेर

सुरक्षाबल के जवानों के साथ सुबह 7 बजे नक्सलियों की मुठभेड़ हुई. इस दौरान जवानों ने बहादुरी के साथ लड़ाई की और 4 नक्सलियों को मार गिराया. इनमें दो महिला और दो वर्दीधारी पुरुष नक्सलियों के शव मिले.

नक्सलियों के पास से कई हथियार बरामद

साथ ही कई हथियार भी बरामद किए गए. IG ने कहा कि अभी मारे गए नक्सलियों की शिनाख्त नहीं हो पाई है.

नक्सलियों के पास से बरामद हुआ इतना सामान
नक्सलियों के पास से बरामद हुआ इतना सामान

झारखंड में भी कुछ दिनों पहले हुई थी मुठभेड़
 
बताते चलें कि एक हफ्ते पहले भी नक्सल प्रभावित राज्य झारखंड (Jharkhand) में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी. मुठभेड़ में तीन नक्सलियों मार गिराया गया था. मुठभेड़ सदर थाना क्षेत्र के बेंदी के जंगल में हुई. लातेहार एसपी अंजनी अंजन ने इस मुठभेड़ की पुष्टि की थी. वहीं, पुलिस की इस सफलता पर DIG राजकुमार लकड़ा ने भी खुशी जाहिर की थी. 

गौरतलब है कि 21 नवंबर को शाम को लातेहार पुलिस ने झारखंड जनमुक्ति परिषद के तीन नक्सलियों को मुठभेड़ में मार गिराया. मुठभेड़ को लेकर लातेहार एसपी अंजनी अंजन ने बताया था कि झारखंड जनमुक्ति परिषद के नक्सली किसी घटना को अंजाम देने के लिए जंगल में घूम रहे थे. इसकी गुप्त सूचना मिली थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें