scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों की बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में 7 नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (DRG) ने मुठभेड़ में सात नक्सलियों को मार गिराया है. यह ऑपरेशन राजनंद गांव के बगनादी पुलिस स्टेशन में चल रहा था. नक्सलियों के पास से हथियार भी जब्त किए गए हैं.

छत्तीसगढ़ के डीजीपी डीएम अवस्थी (तस्वीर- ट्विटर) छत्तीसगढ़ के डीजीपी डीएम अवस्थी (तस्वीर- ट्विटर)

छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (DRG) ने मुठभेड़ में सात नक्सलियों को मार गिराया है. यह ऑपरेशन राजनंद गांव के बगनादी पुलिस स्टेशन में चल रहा था. नक्सलियों के पास से हथियार भी जब्त किए गए हैं.

छत्तीसगढ़ के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस डीएम अवस्थी ने कहा है कि एक मुठभेड़ में 7 नक्सली मारे गए हैं. सीतागोटा जंगल इलाके में डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड के साथ हुई नक्सलियों के इस मुठभेड़ में किसी सुरक्षाकर्मी के हताहत होने की खबर नहीं है. मुठभेड़ के बाद पुलिस ने भारी मात्रा में नक्सलियों के पास से हथियार और गोलाबारूद बरामद किए हैं.

नक्सलियों का गढ़ बन चुके छत्तीसगढ़ में लोगों के बीच विश्वास पैदा करने के लिए पुलिस विभाग लगातार कोशिश कर रही है. पुलिस एक ओर जहां नक्सलियों पर दबाव बनाने का प्रयास कर रही है तो वहीं दूसरी ओर जनता के मन से नक्सलियों के डर को कम करने के लिए अभियान चला रही है.

छत्तीसगढ़ के बड़े हिस्से में नक्सलियों का प्रभाव है. बस्तर में नक्सली वारदातें सबसे ज्यादा सामने आई हैं. यही कारण है कि, इस इलाके में पुलिस और प्रशासन लगातार सक्रियता से काम कर रहे हैं. पुलिस दूरस्थ इलाकों में लोगों से संपर्क साध रही है. साथ ही दंतेवाड़ा में नक्सलियों के स्मारकों को ध्वस्त किया जा रहा है.

नक्सली अपने साथी की शहादत को याद रखने और गांव के लोगों में दहशत पैदा करने के मकसद से मारे गए नक्सलियों का स्मारक बना देते हैं. जिन स्थानों पर यह स्मारक बनाए गए हैं, वहां नक्सलियों की गतिविधियां भी बढ़ी हैं और ग्रामीण भी दहशत में रहते हैं. लिहाजा पुलिस प्रशासन ने इन स्मारकों को ध्वस्त करने का अभियान चलाया हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें