scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़: पुलिस ने की पिता की पिटाई तो युवक ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

मृत हरीश चंद्र गेंदले भी थाने पहुंचा तो उसने देखा कि एक पुलिस कांस्टेबल उसके पिता को पीट रहा है. पल भर में, गेंदले रेलवे स्टेशन पहुंचे और एक ट्रेन के आगे कूद गया.  इस घटना के बाद मंगलवार को थाने के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया और कॉन्स्टेबल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में 23 वर्षीय एक युवक ने चलती ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि बिलासपुर जिले के एक थाने में एक कांस्टेबल द्वारा अपने पिता को पीटते हुए देखने के बाद युवक ने यह कदम उठाया. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हरीश चंद्र गेंदले ने सोमवार को बेल्हा रेलवे स्टेशन के पास चलती ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली. वह भैंसबोड़ गांव का रहने वाला था.

अधिकारी ने कहा, "गेंदले की मोटरसाइकिल ने सोमवार को एक स्कूली छात्रा की साइकिल को टक्कर मार दी थी, जिसके बाद झगड़ा हुआ और उसने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई." स्थानीय पुलिस सूत्रों के मुताबिक, लड़की की शिकायत पर पुलिस ने गेंदले परिवार के घर का दौरा किया और हरीश के पिता को बेल्हा थाने ले गई.

हरीश चंद्र गेंदले भी थाने पहुंचा जहां उसने देखा कि एक पुलिस कांस्टेबल उसके पिता को पीट रहा है. पल भर में, गेंदले रेलवे स्टेशन पहुंचे और एक ट्रेन के आगे कूद गया.  इस घटना के बाद मंगलवार को थाने के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया और कॉन्स्टेबल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है. अधिकारी ने कहा, "विरोध और प्रारंभिक जांच के आधार पर बिलासपुर एसएसपी ने लापरवाही के लिए कांस्टेबल को निलंबित कर दिया है."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें