scorecardresearch
 

कवर्धा मामलाः कानूनी फंदे में बीजेपी के एक और वरिष्ठ नेता का परिवार, पूर्व सीएम रमन सिंह के बेटे पर केस

ज्यादातर बड़े नेताओं की गिरफ्तारी अब तक नहीं की गई है. वहीं शहर में कई स्थानों से शीशी व पत्थर की बोरियां सहित कई आपत्तिजनक सामान बरामद किए गए हैं. पुलिस ने दावा किया है कि ये सभी सामान शहर के घोठिया रोड, एकता चौक, दर्री पारा में खुले स्थान से बरामद किया गया है.

कवर्धा मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं (फाइल फोटो) कवर्धा मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कवर्धा मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं
  • बीजेपी के कई नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज
  • अभी भी इलाके में लगा हुआ है कर्फ्यू

यूपी के लखीमपुर में केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा हत्या के केस में जेल चले गए हैं तो दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ में पूर्व सीएम व बीजेपी नेता रमन सिंह के बेटे पर भी कानूनी शिकंजा कस गया है. कवर्धा में दो पक्षों के बीच लड़ाई से शुरू हुआ विवाद अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है. पूरे शहर में पिछले पांच दिनों से कर्फ्यू लगा हुआ है. पुलिस ने सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह पर केस दर्ज हो गया है.

अभिषेक सिंह के अलावा राजनांदगांव के सांसद संतोष पांडेय पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है. इनके अलावा पूर्व संसदीय सचिव मोती राम चन्द्रवंशी, पूर्व विधायक अशोक साहू, बीजेपी के प्रदेश मंत्री विजय शर्मा, विश्व हिन्दू परिषद के नंद लाल चंद्रकार, बीजेपी युवा मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष कैलाश चन्द्रवंशी, युवा मोर्चा के अध्यक्ष पीयूष ठाकुर, जिला बीजेपी अध्यक्ष अनिल ठाकुर के खिलाफ भी FIR दर्ज की गई है.

अब तक गिरफ्तारी नहीं

ज्यादातर बड़े नेताओं की गिरफ्तारी अब तक नहीं की गई है. वहीं शहर में कई स्थानों से शीशी व पत्थर की बोरियां सहित कई आपत्तिजनक सामान बरामद किए गए हैं. पुलिस ने दावा किया है कि ये सभी सामान शहर के घोठिया रोड, एकता चौक, दर्री पारा में खुले स्थान से बरामद किया गया है. लेकिन ये सामान कौन लाया, किसके द्वारा मंगया गया था, इस मामले में अब तक जानकारी नहीं मिल पाई है. न ही इस मामले में किसी की गिरफ्तारी हो पाई है. फिलहाल मामले की जांच जारी है. जांच के बाद गिरफ्तारी की संख्या बढ़ सकती है.

और पढ़ें- छत्तीसगढ़: झंडे को लेकर हुआ विवाद, कवर्धा में झड़प के बाद धारा 144 लागू, 50 से ज्यादा गिरफ्तार

बता दें, कवर्धा में पांच दिनों के कर्फ्यू के बाद भी स्थिति सामान्य नहीं हो पाई है. वहीं पिछले पांच दिनों से मीडिया से दूरी बनाए रखने वाले पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग पत्रकारों से रविवार को रूबरू हुए. पुलिस अधीक्षक ने मीडिया से बात करते हुए अब तक की सभी कार्रवाई की जानकारी दी. जिसमें 3 अक्टूबर से लेकर अब तक सिटी कोतवाली में 7 अलग अलग एफआईआर दर्ज  की गई है. इनमें कुल 93 लोगों की गिरफ्तारी की गई है. 16 लोग एक पक्ष से हैं, जबकि 77 लोग दूसरे पक्ष से. पुलिस ने इस मामले में बीजेपी के कई नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें