scorecardresearch
 

टॉयलेट को लेकर तलाक की धमकी देने वाली महिला को सुलभ इंटरनेशनल देगा एक लाख का इनाम

घर में टॉयलेट नहीं होने पर अपने पति को तलाक देने की धमकी देने वाली महिला को सुलभ इंटरनेशनल ने एक लाख रुपये से सम्मानित करने की घोषणा करते हुए उसके घर में एक आधुनिक शौचालय बनाने का फैसला किया है.

सुलभ इंटरनेशल के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक (फाइल फोटो) सुलभ इंटरनेशल के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक (फाइल फोटो)

घर में टॉयलेट नहीं होने पर अपने पति को तलाक देने की धमकी देने वाली महिला को सुलभ इंटरनेशनल ने एक लाख रुपये से सम्मानित करने की घोषणा करते हुए उसके घर में एक मॉडर्न टॉयलेट बनाने का फैसला किया है.

बिहार के पटना जिला के बिहटा अनुमंडल के सदेशोपुर निवासी अलख निरंजन की पत्‍नी वर्ष 2009 से घर में टॉयलेट बनाने की मांग करती आ रही थी. महिला की मांग पर उसके पति ने टॉयलेट बनवाने का केवल भरोसा दिया. जिसके बाद वह महिला हेल्पलाइन पर पहुंची और उसने घर में टॉयलेट नहीं होने के कारण उससे हो रही कठिनाई के चलते अपने पति से तलाक दिलाने में मदद किए जाने की गुहार लगाई.

पीडित महिला का कहना है कि घर में टॉयलेट मौजूद नहीं होने के कारण उसे शाम ढलने का इंतजार करने के साथ अंधेरा होने पर शौच के लिए बाहर जाना पड़ता है और इस कठिनाई को देखते हुए वह अपने पति के साथ अब रहने को तैयार नहीं है. महिला का आरोप है कि घर में टॉयलेट बनाने के लिए उसके द्वारा दबाव बनाए जाने पर पति उसकी पिटाई करते हैं.

सुलभ ने की तारीफ, दी तलाक में दखल
सुलभ इंटरनेशल के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक ने इस मामले में दखल देते हुए कहा कि महिला के घर में एक मॉडर्न टॉयलेट का निर्माण कराया जाएगा ताकि उनके खुशी भरे दाम्पत्य जीवन में शौचालय का अभाव बाधक न बन सके. पाठक ने महिला के इस साहसी कदम के लिए उसकी तारीफ करते हुए कहा कि इससे समाज में टॉयलेट के महत्व के प्रति जागृति लाने में मदद मिलेगी.

उन्होंने अपनी संस्था की ओर से उक्त महिला को एक लाख रुपये की राशि देकर सम्मानित किए जाने की घोषणा करते हुए कहा कि मात्र एक टॉयलेट को लेकर वे उनके बीच तलाक की अनुमति नहीं देंगे.

गौरतलब है कि 10.5 करोड़ की आबादी वाले बिहार में 2.19 करोड़ आबादी के पास टॉयलेट नहीं है. केंद्र सरकार ने प्रदेश में 2013 तक 1.11 करोड़ टॉयलेट बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया था.

पहले भी मिल चुका है इनाम
यह कोई पहला मौका नहीं है कि किसी ने घर में टॉयलेट नहीं होने का विरोध किया है बल्कि तीन साल पहले मध्य प्रदेश के बैतूल निवासी आदिवासी महिला अनिता द्वारा ससुराल में टॉयलेट नहीं होने का विरोध करने पर उसका दाम्पत्य जीवन खतरे में पड़ा था. सुलभ इंटरनेशनल ने इस महिला को पांच लाख रुपये देकर सम्मानित किया था.

इसी तरह उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिला की प्रियंका भारती को भी ऐसे ही साहसिक कदम के लिए सम्मानित किया गया था और वह सुलभ इंटरनेशनल के प्रेरक के रूप में टॉयलेट के प्रति लोगों के बीच जागरूकता जगाने के लिए विज्ञापन में बॉलीवुड एक्ट्रेस विद्या बालन के साथ काम कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें