scorecardresearch
 

रूपेश मर्डर केसः शव देख लिपटकर रो पड़े वृद्ध पिता, आखिरी बार छठ पर्व पर आए थे गांव

रूपेश सिंह के बड़े भाई नर्वदेश्वर सिंह ने कहा कि उनके भाई का किसी से कोई विवाद नहीं था. गांव आने पर वो घर बाद में आते थे, लोगों से पहले मिलते-जुलते थे. कोरोना हो या बाढ़, वो हर वक्त मदद के लिए आगे रहते थे. पिछली बार छठ पर्व पर रूपेश गांव आए थे.

रूपेश कुमार सिंह (फाइल फोटो) रूपेश कुमार सिंह (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रूपेश सिंह का शव उनके पैतृक गांव पहुंचा
  • पिता सहित परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल
  • महराजगंज के भाजपा सांसद भी पहुंचे गांव

इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह का शव बुधवार को उनके पैतृक आवास जलालपुर, सवरी गांव (छपरा) पहुंचा. शव पहुंचते गांव में मातम छा गया. वयोवृद्ध पिता शिवजी सिंह अपने बेटे से लिपटकर रोने लगे. वहीं, परिवार के अन्य लोग भी सदमे में दिखे. इस मौके पर महराजगंज के भाजपा सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने पिता का ढांढस बाधा. 

सांसद ने इस हत्याकांड में शामिल अपराधियों को चौराहे पर टांगकर गोली मारने की बात कही. उन्होंने कहा कि ऐसे अपराध करने वालों को कानून में संशोधन कर खुलेआम सजा देनी चाहिए. रूपेश सिंह की हत्या एक साजिश के तहत की गई है. सांसद सिग्रीवाल का यह बयान ऐसे समय में आया है जब बिहार में अपराध अपने चरम पर है.

देखें: आजतक LIVE TV

वहीं, रूपेश सिंह के बड़े भाई नर्वदेश्वर सिंह ने कहा कि उनके भाई का किसी से कोई विवाद नहीं था. गांव आने पर वो घर बाद में आते थे, लोगों से पहले मिलते-जुलते थे. कोरोना हो या बाढ़, वो हर वक्त मदद के लिए आगे रहते थे. पिछले साल छठ पर्व पर रूपेश गांव आए थे.

घर के बाहर हुई थी ताबड़तोड़ फायरिंग

बता दें कि रूपेश कुमार सिंह की अज्ञात बदमाशों ने मंगलवार की शाम पटना स्थित उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वह एयरपोर्ट से वापस लौट रहे थे. जिस वक्त रूपेश कुमार सिंह की गाड़ी उनके घर के बाहर पहुंची तो उसी समय घात लगाए हुए अपराधियों ने उनकी गाड़ी पर ताबड़तोड़ फायरिंग की जिसमें रूपेश की मौके पर ही मौत हो गई.

हत्या के दिन दोपहर में रूपेश सिंह पटना एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे और हेल्थ सेक्रेटरी प्रत्यय अमृत के साथ बातचीत करते और जायजा लेते देखे गए थे. 

सीएम ने डीजीपी से ली स्टेटस रिपोर्ट 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने DGP को निर्देश दिया है कि वह रूपेश हत्याकांड के आरोपियों की अविलंब गिरफ्तारी सुनिश्चित करें. नीतीश कुमार ने बुधवार को डीजीपी एसके सिंघल से बात करके पूरे घटना की जानकारी ली. बिहार के सीएम ने डीजीपी को निर्देश दिया कि घटना में शामिल अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी हो और स्पीडी ट्रायल करवा कर दोषियों को जल्द से जल्द कड़ी सजा दिलवाई जाए. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में किसी तरह के अपराध की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें