scorecardresearch
 

शराबबंदी पर सख्त कानून के खिलाफ पासवान, कहा- राज्य में शराब मिलने पर सीएम को भी हो जेल

पटना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए पासवान ने कहा की एलजेपी शराबबंदी के खिलाफ नहीं है, लेकिन जिस तरीके से कानून बना दिए गए हैं उसे उनकी पार्टी अस्वीकार करती है और उसके खिलाफ है.

X
नीतीश कुमार नीतीश कुमार

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा है कि जिस तरीके से नए शराबबंदी कानून में इस बात का प्रावधान है कि अगर किसी के घर में शराब की बोतल मिलती है तो उस घर के तमाम व्यक्ति जो कि 18 साल से उम्र से ज्यादा के हैं, उन सभी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा. उसी तर्ज पर अगर बिहार राज्य में कहीं शराब मिलती है तो फिर मुख्यमंत्री को इसकी जिम्मेदारी लेते हुए गिरफ्तार किया जाना चाहिए और जेल भेजा जाना चाहिए.

रामविलास पासवान ने यह बातें पुराने शराबबंदी कानून को खारिज करने वाली पटना हाई कोर्ट के फैसले पर रोक लगाने के बाद कहीं. उन्होंने कहा कि जिस तरीके से कड़ा फैसला लिया गया है कि घर के तमाम व्यस्क को जेल जाना पड़ेगा, उसी तर्ज पर सीएम को भी गिरफ्तार कर जेल भेजना चाहिए, अगर राज्य में कहीं शराब मिलती है तो.

पटना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए पासवान ने कहा की एलजेपी शराबबंदी के खिलाफ नहीं है, लेकिन जिस तरीके से कानून बना दिए गए हैं उसे उनकी पार्टी अस्वीकार करती है और उसके खिलाफ है.

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने जिस तरीके से प्रधानमंत्री के ऊपर शहीदों के खून के दलाली का आरोप लगाया है, इस बयान को अमर्यादित करार देते हुए पासवान ने कहा देश की जनता सब देख रही है और समझ रही है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को मर्यादा में रहकर बातें कहनी चाहिए. पासवान ने कहा कि किसी के कुछ भी कहने से प्रधानमंत्री को कुछ फर्क नहीं पड़ता है. राहुल गांधी को अपनी बातें मर्यादा में रहकर कहनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें