scorecardresearch
 

मधुबनी हत्याकांड: नीतीश पर बरसे तेजस्वी, कहा- न्याय के साथ विकास नहीं अन्याय के साथ विनाश हो रहा है

तेजस्वी यादव ने कहा, ''ये नरसंहार है, मैं पीड़ित परिवार की बातें सुनकर हैरान हूं कि घटना कैसे हुई? पूरे गांव में डर का माहौल है, हत्या के बाद भी शरीर को काटा गया. इस नरसंहार में बड़े-बड़े लोगों का हाथ है, रावण सेना चलाने वाले प्रवीण झा को पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा का संरक्षण मिला हुआ है. 

तेजस्वी यादव ने मधुबनी हत्याकांड को लेकर नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो) तेजस्वी यादव ने मधुबनी हत्याकांड को लेकर नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • प्रवीण झा को पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा का संरक्षण: तेजस्वी
  • बीजेपी नेता पर तेजस्वी यादव ने लगाया आरोप
  • पीड़ित परिवार के लिए सरकार नौकरी की मांग की

बिहार के मधुबनी हत्याकांड को लेकर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने सूबे की नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने कहा कि यहां न्याय के साथ विकास नहीं अन्याय के साथ विनाश हो रहा है. उन्होंने इस मामले में कई बड़े नेताओं का नाम लिया और कहा कि इस मामले में कई बड़े लोगों का हाथ है.

तेजस्वी यादव ने कहा, '' ये नरसंहार है, मैं पीड़ित परिवार की बातें सुनकर हैरान हूं कि घटना कैसे हुई? पूरे गांव में डर का माहौल है, हत्या के बाद भी शरीर को काटा गया. इस नरसंहार में बड़े-बड़े लोगों का हाथ है, रावण सेना चलाने वाले प्रवीण झा को पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा का संरक्षण मिला हुआ है. यहां जितने भी पुलिस अधिकारी हैं, आरोपी प्रवीण झा की सबसे बनती है. लोग कहते थे कि पुलिस नेपाल से पकड़कर लाते हैं लेकिन नीतीश कुमार की पुलिस प्रवीण झा नेपाल छोड़कर आई है. यहां न्याय के साथ विकास नहीं अन्याय के साथ विनाश हो रहा है.''

उन्होंने आगे कहा, पुलिस ने होली के दिन भी फोन नहीं उठाया, पीड़ित परिवार को सुरक्षा नहीं मिली. एक ही परिवार में 3 महिलाएं विधवा हो गई. पुलिस आरोपी प्रवीण झा को खुद नेपाल छोड़ कर आई है. सिर्फ कुर्की की जा रही है. मुख्यमंत्री को पीड़ित परिवार से मिलकर आंसू पोंछने चाहिए, सांत्वना देनी चाहिए.''

बीजेपी नेता पर आरोप लगाते हुए तेजस्वी यादव ने कहा, '' इस हत्याकांड में BJP विधायक और पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा की संलिप्तता है, घटना से एक दिन पहले उन्होंने आरोपियों के साथ मीटिंग की है. ये कुशासन है, जहां रावण सेना को संरक्षण दिया जा रहा है. ये विवाद काफी समय से चल रहा है. जो ये संगठन चलाता है, उसपर कई मामले दर्ज हैं. जो जांच कर रहा है, आरोपियों को उसी का संरक्षण मिला हुआ है.''

तेजस्वी यादव ने मांग की कि आरोपियों को अविलंब गिरफ्तारी हो और विनोद नारायण झा से भी पूछताछ की जाए. इसके अलावा पीड़ित परिवार को सरकारी नौकरी दी जाए. तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि SP और DSP को निलंबित किया जाए. उनके रहते इंसाफ नहीं मिल सकता, आरोपी की डीएसपी के साथ तस्वीरें हैं. आरोपियों की पुलिस के साथ मिलीभगत है, जो रंगदारी करते हैं, उसमें कुछ हिस्सा पुलिस को भी जाता है. मुख्यमंत्री DGP से बात कर रहे हैं, DGP एसपी से बात करेंगे, एसपी DSP से बात करेगा और डीएसपी क्या रिपोर्ट देगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें