scorecardresearch
 

बाहुबली रामा सिंह को तेजस्वी ने सौंपी मधुबनी हत्याकांड की जांच की जिम्मेदारी, JDU ने उठाए सवाल

मधुबनी में 5 लोगों की निर्मम हत्या के मामले में आरजेडी नेता तेजस्वी ने जांच टीम बनाई है. हैरान करने वाली बात तो ये है कि तेजस्वी ने इस जांच टीम का नेतृत्व जिस बाहुबली नेता रामा किशोर सिंह को सौंपी है, उन पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. 

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो) आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बाहुबली नेता रामा सिंह कर रहे टीम का नेतृत्व
  • मधुबनी पहुंची टीम ने की पीड़ित परिवार से मुलाकात
  • जेडीयू नेताओं ने आरजेडी की जांच टीम पर कसा तंज 

बिहार के मधुबनी में बेनीपट्टी में 5 लोगों की हत्या के मामले में सियासी घमासान तेज हो चुका है. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोल रहे हैं और प्रदेश में बढ़ते अपराध के मुद्दे को उठा रहे हैं. मधुबनी हत्याकांड के मुद्दे पर नीतीश सरकार को घेरने के इरादे से तेजस्वी यादव ने अपनी पार्टी का एक जांच दल महमदपुर गांव भेजने का फैसला किया है. 

दिलचस्प बात यह है, महमदपुर हत्याकांड की सच्चाई जानने के लिए तेजस्वी यादव ने जो 7 सदस्यीय जांच टीम बनाई है, उसका नेतृत्व पार्टी के बाहुबली और दबंग छवि के नेता रामा किशोर सिंह कर रहे हैं. आरजेडी की इस जांच समिति में रामा किशोर सिंह समेत तीन विधायक सुधाकर सिंह, शशि भूषण सिंह चेतन आनंद, पूर्व विधायक रणधीर सिंह, पूर्व प्रत्याशी रमेश कुमार चौधरी और प्रदेश सचिव अजय सिंह शामिल हैं. 

आरजेडी के प्रदेश प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता की तरफ से जारी पत्र में कहा गया है कि रामा किशोर सिंह के नेतृत्व में जांच समिति घटनास्थल का दौरा करके 7 दिनों के अंदर अपनी रिपोर्ट पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष को सौंपेगी. आरजेडी की इस जांच टीम का नेतृत्व रामा सिंह को सौंपे जाने को लेकर जनता दल यूनाइटेड ने पार्टी पर तंज कसते हुए कहा है कि जिस नेता के ऊपर खुद ही अपहरण, रंगदारी और हत्या के कई मामले चल रहे हों, वह आखिर मधुबनी हत्याकांड की जांच क्या करेगा?

जनता दल यूनाइटेड प्रवक्ता अभिषेक झा ने सवाल उठाते हुए कहा है कि “जिस व्यक्ति को जांच समिति का नेतृत्व सौंपा गया है. उसके ऊपर खुद कई अपराधिक मामले दर्ज हैं. वह अपहरण, रंगदारी और हत्या के कई मामलों का आरोपी भी है. जो पार्टी सत्ता संरक्षित अपराध कराती थी, मुख्यमंत्री आवास से अपराध और अपराधी संचालित होते थे. वह किसी हत्याकांड की जांच कैसे कर सकती है?” 

पीड़ित परिवार से मिले आरजेडी के बाहुबली नेता रामा किशोर सिंह

वहीं जांच कमेटी का नेतृत्व कर रहे रामा किशोर सिंह के साथ पार्टी नेता आज मधुबनी पहुंचे. यहां उन्होंने पीड़ित परिवार से मुलाकात की और उनका हाल जाना. हर संभव मदद का आश्वासन दिया. बता दें, रामा किशोर सिंह उर्फ रामा सिंह की छवि एक बाहुबली नेता की है और वह अपहरण, रंगदारी हत्या के कई मामलों में आरोपी हैं. अपनी बाहुबली छवि के कारण रामा सिंह पांच बार विधायक रहे. 2014 में लोक जनशक्ति पार्टी से सांसद बने. 2020 विधानसभा चुनाव से पहले रामा सिंह आरजेडी में शामिल हो गए थे. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें