scorecardresearch
 

लालू यादव 3 साल बाद लौटे पटना, तेज प्रताप बोले- लौट आया बिहार का शेर

पिता लालू प्रसाद का एयरपोर्ट पर स्वागत करने के लिए घर से निकलते समय के तेज प्रताप ने 'आजतक' से बातचीत की जहां पर उन्होंने बताया कि बिहार का शेर वापस लौट आया है.

लालू प्रसाद यादव और उनके बेटे (फाइल फोटो) लालू प्रसाद यादव और उनके बेटे (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीन साल बाद पटना लौटे लालू यादव
  • तेज बोले- लौट आया बिहार का शेर

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) तकरीबन 3 साल के अंतराल के बाद रविवार शाम को पटना लौटे. लालू का पटना एयरपोर्ट पर स्वागत करने के लिए उनके दोनों बेटे तेज प्रताप (Tej Pratap)और तेजस्वी (Tejashwi Yadav)  मौजूद रहे.

पिता लालू प्रसाद का एयरपोर्ट पर स्वागत करने के लिए घर से निकलते समय के तेज प्रताप ने 'आजतक' से बातचीत की जहां पर उन्होंने बताया कि बिहार का शेर वापस लौट आया है.

दिलचस्प बात यह है कि लालू के पटना वापसी को लेकर तेज प्रताप ने अपने सरकारी आवास को फूलों और गुब्बारों से सजाया था और गेट पर 'वेल्कम माय फादर' लिखा था. वहीं, आजतक से बात करते हुए तेज प्रताप में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बीजेपी सांसद सुशील मोदी पर भी तंज कसते हुए कहा कि लालू का स्वागत करने के लिए उन्हें भी पटना एयरपोर्ट पहुंचना चाहिए.

गेट पर लिखा गया वेल्कम माय फादर
गेट पर लिखा गया वेल्कम माय फादर

यह भी पढ़ें: महीनों बाद लालू यादव पुराने फॉर्म में नजर आए, बिहार कांग्रेस के प्रभारी की हवा निकाल दी

उन्होंने कहा, ''मेरे पिता बिहार के शेर हैं और मेरे भगवान हैं वह बिहार की धरती को पवित्र करने के लिए वापस आ गए हैं. जितने भी मेरे पिता के विरोधी हैं नीतीश कुमार और सुशील मोदी उनको पटना एयरपोर्ट पर उनके स्वागत के लिए आना चाहिए.'' पटना एयरपोर्ट से निकलने के बाद लालू प्रसाद अपने काफिले में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड पर पहुंचे जहां पर सैकड़ों की संख्या में आरजेडी के कार्यकर्ता और समर्थक मौजूद रहे. 

तेज प्रताप यादव ने जगदानंद पर हमला बोलते हुए कहा कि हमें RJD से कोई लेनादेना नहीं है, कोई मतलब नहीं है. आज खुशी का इतना बड़ा मौका था, सब को एक होना था लेकिन ऐसी परिस्थिति में भी हमें बेइज्ज़त किया गया. एयरपोर्ट पर हमें जगदानंद सिंह ने ठेलने का काम किया. यह कैसा रवैया है? तुम RSS वाले हो. जब तक हम आपको पार्टी से नहीं निकालेंगे तब तक हमें RJD से कोई मतलब नहीं है. आगे हम बहुत बड़ा कदम लेने वाले हैं

लालू प्रसाद जब अपने घर पर पहुंचे तो उस दौरान वह गाड़ी की आगे सीट पर हरे रंग की टोपी और हरा गमछा गले में लपेटे हुए थे. कुछ दिन पहले लालू ने आरजेडी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को हरे रंग की टोपी और हर रंग का गमछा पहनने का निर्देश दिया है और कहा है कि यह आरजेडी की पहचान होगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×