scorecardresearch
 

बिहार: दहेज नहीं मिलने पर लड़के वालों ने कैंसल की शादी, लड़की ने दी जान

माधवेंद्र चौधरी ने अपनी बेटी विनीता की शादी पटना में 6 महीने पहले तय की थी. लड़की के पिता ने बताया कि दहेज की रकम लड़के वालों तक पहुंचाने का समय निकल गया तो उन्होंने शादी की तारीख 2 साल आगे बढ़ा दी.

X
सांकेतिक तस्वीर. सांकेतिक तस्वीर.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
  • शादी को लेकर बहुत उत्साहित थी विनीता

बिहार के नवादा में एक युवती के दहेज की भेंट चढ़ने का मामला सामने आया है. युवती के पिता जब दहेज की रकम का इंतजाम करके लड़के वालों के घर नहीं पहुंचा पाए तो युवती ने मौत का रास्ता अपना लिया. पुलिस ने मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है.

मामला नवादा के अकबरपुर थाना क्षेत्र का है. जिले के दरियापुर गांव के रहने वाले माधवेंद्र चौधरी ने बेटी विनीता कुमारी की शादी 6 महीने पहले पटना जिले के दरवे गांव में तय की थी. लड़की के पिता के मुताबिक सोमवार तक दहेज की रकम लड़के वालों तक पहुंचानी थी. जब पैसे की व्यवस्था नहीं हो पाई तो लड़की के पिता ने लड़के वालों को फोन किया और कहा कि दहेज की रकम को लेकर बातचीत करनी है. उसके बाद लड़के वालों ने 2 साल तक शादी से इनकार कर दिया.

विनीता को पता चल चुकी थी इनकार की बात

लड़की के पिता के मुताबिक जब लड़के वालों ने शादी से इनकार कर दिया तो इसकी जानकारी विनीता को भी लग गई. इससे दुखी होकर उसने दुप्पटे से फांसी लगाकर जान दे दी. घटना के बाद मौके पर पहुंची अकबरपुर थाना पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया और मामले की जांच शुरू कर दी. शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है. लड़की की मां मिंता देवी ने बताया कि लड़के वालों का इनकार करना विनीता सहन नहीं कर सकी.

विनीता ने फांसी तब लगाई जब वह घर में अकेली थी. बताया जा रहा है कि पहले ही उसकी शादी को लेकर बहुत देर हो चुकी थी. इधर, शादी को लेकर विनीता काफी खुश थी. अचानक लड़के वालों के इनकार करने पर उसका दिल टूट गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें