scorecardresearch
 

बिहार: तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर हमला बोला, कहा- रोडरेज की घटनाएं रोकना मुश्किल

बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि रोड रेज जैसी घटना विकृत मानसिकता की देन है. रोड रेज जैसी आवेश में होने वाली नकारात्मक वारदात को रोकना थोडा मुश्किल है.

X

गया रोड रेज मामले में आरोपी जेडीयू एमएलसी मनोरमा देवी के बेटे रॉकी यादव को मंगलवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि रोड रेज जैसी घटना विकृत मानसिकता की देन है. रोड रेज जैसी आवेश में होने वाली नकारात्मक वारदात को रोकना थोडा मुश्किल है. हां, इस पर तुरंत कार्रवाई और गिरफ्तारी करके सरकार अपराधियों का मनोबल तोड़ सकती है और जनता में कानून व्यवस्था के प्रति विश्वास जगा सकती है.

तेजस्वी ने गया आदित्य कुमार सचदेवा नाम के युवक की हत्या पर दुख व्यक्त करते हुए बीजेपी और मीडिया द्वारा जंगलराज जैसे शब्द के जरिए विशेष पार्टी को निशाना बनाए जाने को लेकर आक्रोश जताया. तेजस्वी ने ‘अपने दिल की बात कार्यक्रम’ के तहत फेसबुक पोस्ट लिखी. तेजस्वी ने लिखा, ‘रोड रेज की एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में आदित्य की गोली मारकर हत्या की घटना दुखद है. इस घटना से उन्हें बहुत आघात पहुंचा है. किसी भी युवा के प्राण इस तरह बेवजह नाकारात्मक कारणों से जाना दुर्भाग्यपूर्ण है. इस घटना की जितनी भी निंदा की जाए कम है. मेरी संवेदनाएं मृतक परिवार के साथ हैं.’

उप मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इस मामले में आरोपी युवक को ऐसे जघन्य अपराध के लिए कतई बख्शा नहीं जाना चाहिए. मैं कड़े से कड़े शब्दों में इस घटना की निंदा करता हूं. लेकिन भाजपा नेताओं और उसकी समर्थित मीडिया इस घटना को कुछ इस प्रकार पेश कर रही है, जैसे यह पूरे देश में अपने आप में एक दुर्लभ और रोड रेज की पहली आपराधिक घटना है.’ तेजस्वी ने कहा कि किसी अभियुक्त का कोई संबंधी अगर किसी सत्तासीन राजनीतिक दल का सदस्य है तो इसका अर्थ यह नहीं निकाला जाना चाहिए कि अभियुक्त सरकारी संरक्षण प्राप्त है.

पूछा- बीजेपी को व्यापम में जंगलराज क्यों नहीं याद आया?
तेजस्वी ने एनडीए में सबसे अधिक आपराधिक छवि वालों को टिकट देने और राजनीतिक संरक्षण दिए जाने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘मध्य प्रदेश में एक आईपीएस अधिकारी की बालू माफिया द्वारा सरेआम निर्दयता से हत्या कर दी जाती है तथा व्यापम घोटाले में एक-एक कर गवाहों को रास्ते से हटा दिया जाता है तो वहां जंगल राज का आगाज नहीं होता है.’ उन्होंने पड़ोसी बीजेपी शासित झारखंड राज्य का उदहारण देते हुए कहा कि वहां एक जेएमएम नेता तथा एक इंजीनियर की हत्या कर दी जाती है तब न तो बीजेपी नेताओं का सोया हुआ जमीर जगा और न ही भाजपा समर्थित मीडिया को जंगलराज का जुमला याद आया.

बीजेपी को मुरथल कांड की याद दिलाई
तेजस्वी ने कहा कि हरियाणा में सामूहिक बलात्कार की घटनाएं देश की राजधानी दिल्ली में बलात्कार और रोडरेज के मामले राजग के नेताओं को सामान्य और स्वभाविक नजर आती है क्योंकि वहां की पुलिस केंद्र सरकार के अधीन काम करती है. उन्होंने कहा कि आदित्य मामले में पुलिस की त्वरित कार्रवाई और गिरफ्तारी पिछले बिहार विधानसभा में करारी हार झेलने वाले राजग के नेताओं के अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने के मंसूबे पर पानी फेर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें