scorecardresearch
 

बिहार: RTI कार्यकर्ता समेत दो लोगों की गोली मारकर हत्या

पुलिस के अनुसार, जमुई के बिछवे गांव के रहने वाले आरटीआई कार्यकर्ता वाल्मीकी यादव (35) अपने दोस्त धर्मेंद्र यादव (30) के साथ रविवार रात अपनी बाइक से सिकंदरा से गांव लौट रहे थे, तभी बिछवे गांव के पास घात लगाए अपराधियों ने दोनों को गोली मार दी.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार में एक बार फिर अज्ञात बदमाशों की गुंडागर्दी सामने आई है. बिहार के जमुई जिले के सिकंदरा थाना क्षेत्र में रविवार रात अज्ञात बदमाशों ने आरटीआई कार्यकर्ता सहित दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी.

पुलिस के अनुसार, जमुई के बिछवे गांव के रहने वाले आरटीआई कार्यकर्ता वाल्मीकी यादव (35) अपने दोस्त धर्मेंद्र यादव (30) के साथ रविवार रात अपनी बाइक से सिकंदरा से गांव लौट रहे थे, तभी बिछवे गांव के पास घात लगाए अपराधियों ने दोनों को गोली मार दी.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गोली लगने से वाल्मीकी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई जबकि धर्मेंद्र ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. वाल्मीकि के परिजनों के अनुसार, वे इन दिनों आंगनबाड़ी में अनियमितता को उजागर करने में लगे थे.

सिकंदरा के थाना प्रभारी प्रमोद कुमार ने सोमवार को बताया कि पुलिस पूरे मामले की छानबीन शुरू कर दी है. उन्होंने इस घटना को सुनियोजित बताते हुए कहा कि इस मामले में तीन से चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

गौरतलब है कि पूर्वी चंपारण जिले के पिपराकोठी थाना क्षेत्र में 19 जून को बदमाशों ने आरटीआई कार्यकर्ता राजेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी. आपको बता दें कि इससे पहले भी बिहार में कई पत्रकारों की इसी प्रकार हत्या कर दी गई थी, जिसके बाद कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें