scorecardresearch
 

बिहार: डीजीपी का वीडियो वायरल, 'भगवान भी अपराध रुकने की गारंटी नहीं दे सकते'

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में डीजीपी आक्रोशित नजर आ रहे हैं और बढ़ते अपराध पर जनता से सवाल पूछ रहे हैं. वीडियो में डीजीपी कह रहे हैं कि जब लोग अपराधियों का समर्थन जाति, धर्म और दल के नाम पर करेंगे तो आखिर समाज में अपराध कैसे रुकेगा?

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे

  • वीडियो 30 नवंबर का होने का किया जा रहा दावा
  • बेगूसराय का बताया जा रहा है वायरल वीडियो

बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडे का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में डीजीपी आक्रोशित नजर आ रहे हैं और बढ़ते अपराध पर जनता से सवाल पूछ रहे हैं. वीडियो में डीजीपी कह रहे हैं कि जब लोग अपराधियों का समर्थन जाति, धर्म और दल के नाम पर करेंगे तो आखिर समाज में अपराध कैसे रुकेगा ?

गुप्तेश्वर पांडे का यह वीडियो 30 नवंबर का बताया जा रहा है, जब वह बेगूसराय के दौरे पर गए थे और पत्रकारों से बात कर रहे थे. इस वीडियो में गुप्तेश्वर पांडे कहते नजर आ रहे हैं कि कोई भी इस बात का दावा नहीं कर सकता है कि प्रदेश में कोई अपराध कभी नहीं होगा. उन्होंने कहा कि अपराध आगे भी होंगे, मगर पुलिस का काम है उसे रोकना और अगर वह रोकने में कामयाब नहीं होती है तो उसका अनुसंधान करना.

भगवान भी नहीं दे सकते गारंटी...

बिहार पुलिस के प्रमुख ने कहा कि भगवान भी इस बात की गारंटी नहीं दे सकते कि भविष्य में प्रदेश में अपराध नहीं होगा. समाज को आईना दिखाते हुए डीजीपी कह रहे हैं कि आज 12 से 18 साल के बच्चे नशीली पदार्थ जैसे स्मैक और हेरोइन का सेवन कर रहे हैं. अपराध रोकना केवल पुलिस का काम नहीं है. इसमें जनभागीदारी की भी जरूरत है और जनता को अपराधियों के खिलाफ माहौल बनाने की जरूरत है.

डीजीपी ने कहा कि जनता जाति, मजहब और दल के नाम पर अपराधियों का समर्थन करती है. उनको हीरो बनाती है और उनकी पूजा करती है. फिर उसके अपराधी होने की बात करती है. गौरतलब है कि आपराधिक घटनाओं में इजाफे के कारण पुलिस आलोचकों के निशाने पर है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें