scorecardresearch
 

किसकी मजाल है जो बिहार में लगाए राष्ट्रपति शासन: लालू प्रसाद

एक सभा को संबोधित करते हुए लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि किसकी मजाल है जो बिहार में राष्ट्रपति शासन लगा दे. लालू ने सभा में जमकर विरोधियों पर हमला बोला उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति शासन की मांग करने वाले विरोधी दलों पर लालू जमकर बरसे.

एलजेपी चीफ रामविलास पासवान के बिहार में राष्ट्रपति शासन की मांग किए जाने पर आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने जमकर हमला बोला और कहा कि किसकी मजाल है जो बिहार में राष्ट्रपति शासन लगा दे.

पांच फरवरी की शाम एलजेपी नेता बृजनाथी सिंह की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद बिहार में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है. इस घटना के बाद पासवान ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की बात कही और अपने पार्टी के नेता की हत्या को बदले की भावना से प्ररित बताया.

दूसरे राज्यों के हालात देखने की नसीहत
वहीं उनकी इस मांग के बाद लालू ने सभा में जमकर विपक्षी दलों पर हमला बोला. लालू प्रसाद यादव बार-बार जंगलराज का आरोप लगाये जाने से खफा दिखे और उन्होंने विरोधियों पर तंज कसते हुए कहा कि बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की पैरवी करने वाले दूसरे राज्यों में में भी कानून व्यवस्था का भी जायजा लें.

'पीएम में योग्यता नहीं, कालाधन नहीं लाए वापस'
लालू ने इस दौरान केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री में योग्यता नहीं है. केंद्र सरकार और मोदी हर मोर्चे पर पूरी तरह फेल हैं. लालू ने स्मार्ट सिटी के मुद्दे पर सरकार को निशाने पर लिया और कालाधन के वापस नहीं आने पर भी केंद्र पर हमला बोला. लालू प्रसाद यादव मधुबनी में एक सभा को संबोधित कर रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें