scorecardresearch
 

रूपेश हत्याकांड पर नीतीश कुमार ने DGP से ली स्टेटस रिपोर्ट, कहा- अपराध की घटनाएं बर्दाश्त नहीं

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने डीजीपी को निर्देश दिया कि घटना में शामिल अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी हो और स्पीडी ट्रायल करवा कर दोषियों को जल्द से जल्द कड़ी सजा दिलवाई जाए.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फोटो- PTI) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फोटो- PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रूपेश सिंह हत्याकांड पर सीएम नीतीश कुमार ने दिया बयान
  • नीतीश कुमार ने बिहार के डीजीपी एके सिंघल से की बात
  • 'आरोपियों की अविलंब गिरफ्तारी सुनिश्चित करें DGP'

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या पर बुधवार को बयान दिया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने DGP को निर्देश दिया है कि वह रूपेश हत्याकांड के आरोपियों की अविलंब गिरफ्तारी सुनिश्चित करें. नीतीश कुमार ने आज डीजीपी एसके सिंघल से बात करके पूरे घटना की जानकारी ली.

बिहार के सीएम ने डीजीपी को निर्देश दिया कि घटना में शामिल अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी हो और स्पीडी ट्रायल करवा कर दोषियों को जल्द से जल्द कड़ी सजा दिलवाई जाए. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में किसी तरह के अपराध की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. 

बता दें कि रूपेश कुमार सिंह पर बाइक सवार बदमाशों ने मंगलवार को उस वक्त हमला किया, जब पटना एयरपोर्ट से वो पुनाईचक इलाके में स्थित अपने कुसुम विला अपार्टमेंट पहुंचे थे. SUV चला रहे रूपेश को जरा भी भनक नहीं थी कि हमलावर उनके करीब हैं. वह अपने अपार्टमेंट के गेट पर रुके थे, तभी बाइक सवार बदमाशों ने गोलियां चलानी शुरू कर दी. बाइक सवार बदमाशों ने रूपेश सिंह पर 6 गोलियां चलाईं, जो उनके सीने में और हाथ में लगीं. गोलीबारी के बाद अपराधी बड़े आराम से हथियार लहराते फरार भी हो गए.

देखें- आजतक LIVE TV

इस हत्याकांड के बाद से बिहार सरकार आरजेडी और कांग्रेस के निशाने पर है. विपक्ष लगातार सवाल पूछ रहा है कि आखिर सुशासन राज में अपराधी क्यों बेखौफ हो गए हैं. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में लगातार घटनाएं बढ़ती जा रही हैं, लोग अपने घर से बाहर निकलने में असहज महसूस कर रहे हैं, अब तो घर में घुसकर लोगों को गोली मार दी जा रही है, एक गोली नहीं, सुनने में आया है कि 15 राउंड गोली चला, जिसमें 6 राउंड गोली रूपेश जी को लगा.

उधर, इस मामले की तहकीकात कर रही एसआईटी ने पटना, गोपालगंज और छपरा में छापेमारी की है. रूपेश के सहकर्मियों से पूछताछ की गई. पुलिस का कहना है कि उसे कुछ पुख्ता सबूत मिले हैं. डीएसपी का कहना है कि पुलिस को कुछ ठोस सुराग मिले हैं, जिस पर वे काम कर रहे हैं. सभी एंगल से जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें