scorecardresearch
 

'Omicron कोरोना महामारी के अंत का संकेत, एक-दो महीने बाद लौट आएंगे फिर पुराने दिन'

डेनमार्क की हेल्थ चीफ टायरा ग्रूव क्रॉस ने ओमिक्रॉन वैरिएंट के साथ महामारी का अंत होने की भविष्यवाणी की है. उनका कहना है कि ओमिक्रॉन अपने साथ महामारी का अंत लेकर आया है और अगले दो महीनों में हम सभी अपने सामान्य जीवन में वापस लौट जाएंगे.

X
Omicron के साथ होगा कोरोना की महामारी का अंत, इस हेल्थ एक्सपर्ट ने किया दावा (Photo: Getty Images) Omicron के साथ होगा कोरोना की महामारी का अंत, इस हेल्थ एक्सपर्ट ने किया दावा (Photo: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ओमिक्रॉन के साथ आया कोरोना की महामारी का अंत
  • अगले 2 महीने में सामान्य जीवन में लौटने की संभावना

दक्षिण अफ्रीका में मिला कोरोना का नया ओमिक्रॉन वैरिएंट पूरी दुनिया में तेजी से फैल रहा है. इसी बीच डेनमार्क की हेल्थ चीफ टायरा ग्रूव क्रॉस ने ओमिक्रॉन वैरिएंट के साथ महामारी का अंत होने की भविष्यवाणी की है. उनका कहना है कि ओमिक्रॉन अपने साथ महामारी का अंत लेकर आया है और अगले दो महीनों में हम सभी अपने सामान्य जीवन में वापस लौट जाएंगे.

एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान डेनमार्क के स्टेट सीरम इंस्टिट्यूट की चीफ एपिडेमायोलॉजिस्ट टायरा ने बताया कि ऑर्गेनाइजेशन ने एक स्टडी में पाया कि ओमिक्रॉन संक्रमण में अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम डेल्टा के मुकाबले आधा है. इन आंकड़ों से अधिकारियों को उम्मीद मिली है कि अगले दो महीनों में डेनमार्क में महामारी का अंत हो सकता है.

टायरा ने सोमवार को अपने बयान में कहा, 'मुझे लगता है कि हमें अगले दो महीनों में महामारी से छुटकारा मिल जाएगा. इस दौरान संक्रमण की रफ्तार धीमी पड़ जाएगी और हम अपने सामान्य जीवन में वापस लौट पाएंगे.' हालांकि, ओमिक्रॉन बढ़े हुए संक्रमण के चलते महामारी को लंबा खींच सकता है. टायरा ने कहा कि वास्तव में ये सब महामारी के अंत को दर्शाता है.

स्टडी के मुताबिक, ओमिक्रॉन यहां ठहरने आया है और आने वाले महीनों में यह बड़ी तेजी से इंफेक्शन फैलाएगा. लेकिन जब ये खत्म होगा तो हम खुद को एक बेहतर जगह पाएंगे. डेनमार्क में ओमिक्रॉन के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच एक्सपर्ट ने कहा कि ओमिक्रॉन डेल्टा से कम ताकतवर है. इसलिए ज्यादातर लोग बिना किसी लक्षण के संक्रमित होंगे. नतीजन, यह लोगों को एक अच्छा इम्यूनिटी लेवल प्रदान करेगा.

डेनमार्क ने बीते हफ्तों में कोरोना के नए मामलों में उछाल देखी है और रविवार को सात दिनों के औसत संक्रमण के सर्वाधिक मामले दर्ज किए. देश में पिछले सप्ताह सात दिन के औसत मामले 20,886 थे. डेनमार्क में संक्रमण की दर यूरोप में सर्वाधिक है. यहां संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले (41,035) 27 दिसंबर को दर्ज किए गए थे.

टायरा ने जोर देकर कहा कि आने वाले महीनों में महामारी को हराने के लिए अभी बहुत काम करना बाकी है. उन्होंने कहा, 'ओमिक्रॉन जनवरी के अंत में पीक पर होगा. फरवरी में इंफेक्शन के मामले घटेंगे और हेल्थ केयर सिस्टम पर दबाव कम होगा. लेकिन हमें जनवरी में बहुत प्रयास करने होंगे, क्योंकि इस चुनौती को पार करना आसान नहीं होगा.'

एक्सपर्ट ने कहा कि संक्रमण की रफ्तार कम करने के लिए लोगों को कोविड-19 सेफ्टी प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए. हाइजीन का ख्याल रखें, सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करें और शरीर में लक्षण दिखते ही खुद को घर में क्वारनटीन रखें. ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों का असर डेनमार्क के हेल्थकेयर सिस्टम पर अभी जारी रहेगा. आने वाले समय में यह एक चुनौती बन सकता है.

आर्हस यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में डिपार्टमेंट ऑफ इंफेक्शियस डिसीज के चीफ फिजिशियन प्रोफेसर लार्स ऑस्टेरगार्ड ने भी 1 जनवरी को अपने बयान में महामारी के अंत का जिक्र किया था. उन्होंने कहा था कि कोरोना हमेशा के लिए एक महामारी बनकर नहीं रहेगा और इसका पूरी तरह से खत्म होना भी असंभव है. शायद हम कभी कोरोना को अलविदा ना कह सकें. लेकिन इंफेक्शन और वैक्सीन से लोगों की इम्यूनिटी अच्छी होगी तो हम इसे किसी दूसरे संक्रमण की तरह संभाल सकेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें