scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: सऊदी के  किंग सलमान के पांव छू रहे हैं मोदी? वायरल हो रही फर्जी तस्वीर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल की जा रही है. इसमें दावा किया जा रहा है कि पीएम मोदी सऊदी किंग सलमान के पांव छू रहे हैं. हालांकि, यह तस्वीर फर्जी है. इसे एडिट कर सर्कुलेट किया जा रहा है.

X
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फर्जी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फर्जी तस्वीर

सोशल मीडिया पर बीते कुछ दिनों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक फोटो काफी वायरल हो रही है. इसमें मोदी को सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सउद (Salman bin Abdulaziz Al Saud) के पांव छूते हुए देखा जा सकता है. फेसबुक पर इसे पोस्ट करते हुए कई लोग कह रहे हैं कि विदेश में मोदी कुछ इस अंदाज में नजर आते हैं.

वायरल फोटो में लिखा हुआ है, "कहीं हिंदू राष्ट्र खतरे में न पड़ जाये मोदी जी बिदेश में सम्मान और देश में नफरत कैसी राजनीति."

हादसा  

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

देखा जा सकता हैइंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम ने पाया कि ये तस्वीर फर्जी है. असली तस्वीर में नरेंद्र मोदी सऊदी अरब के किंग के नहीं बल्कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के पैर छू रहे हैं. 

कैसे पता लगाई सच्चाई?

वायरल तस्वीर की असलियत जानने के लिए हमने इसे रिवर्स सर्च किया तो ये हमें ‘एनडीटीवी की एक रिपोर्ट में मिली.

25 सितंबर 2013 में छपी इस रिपोर्ट में हमें वायरल इमेज से मिलती-जुलती दूसरी तस्वीर दिखी, लेकिन यहां पर किंग सलमान की जगह लालकृष्ण आडवाणी नजर आ रहे हैं. 

 

हादसा

 

‘एनडीटीवी’ की रिपोर्ट के मुताबिक, आडवाणी के पैर छूते हुए मोदी की ये तस्वीर 2013 मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले की है. दरअसल, चुनाव प्रचार के दौरान भोपाल में एक रैली को संबोधित करने के लिए लालकृष्ण आडवाणी और गुजरात के तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी मंच पर मौजूद थे. इसके अलावा वहां मध्य प्रदेश के तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान व तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह समेत और कई बड़े नेता भी थे.

उस मंच पर ही गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकृष्ण आडवाणी के पांव छुए थे. लेकिन आडवाणी ने मोदी के पैर छूने पर जिस तरह की प्रतिक्रिया दी थी वह काफी चर्चा में रही थी. असल में मोदी के पैर छूने के बाद आडवाणी ने कोई खास गर्मजोशी नहीं दिखाई थी, इस घटना का जिक्र कई मीडिया रिपोर्ट्स में भी किया गया था.

छानबीन के दौरान जब सऊदी के किंग की फोटो को हमने गूगल लेंस टूल के जरिए खोजा, तब यह हमें मार्च 2015 में छपी 'द एक्प्रेस ट्रिब्यून' की एक रिपोर्ट में मिली. इस रिपोर्ट के साथ छपी तस्वीर में किंग सलमान रियाद एयरपोर्ट पर पाकिस्तान के तत्कालीन पीएम नवाज शरीफ को रिसीव करते नजर आ रहे हैं. जिसने भी वायरल तस्वीर बनाई है उसने इस तस्वीर को एमपी की एक रैली में नरेंद्र मोदी के आडवाणी के पैर छूने की तस्वीर के साथ जोड़ दिया है.

हादसा

पीएम नरेंद्र मोदी की इसी तरह की एक दूसरी तस्वीर भी पहले वायरल हो चुकी है. 2019 में उन्हें हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी के भाई व तेलंगाना के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी के पैर छूते दिखाया गया था. उस वक्त भी “आजतक” ने इसका फैक्ट चेक किया था.

(ऋद्धीश दत्ता और यश मित्तल के इनपुट के साथ)

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

तस्वीर में देखा जा सकता है कि विदेश में किस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सऊदी अरब के राजा सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सउद के आगे झुककर उनके पांव छू रहे हैं.

निष्कर्ष

नरेंद्र मोदी के सऊदी किंग के पांव छूने की वायरल फोटो फर्जी है. इसे पीएम मोदी और सऊदी अरब के किंग सलमान की पुरानी तस्वीरों को जोड़कर बनाया गया है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें