scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: एसिड अटैक का शिकार हुई मॉडल की तस्वीर के साथ लव जिहाद का झूठा दावा

सोशल मीडिया पर दो तस्वीरों का एक कोलाज वायरल हो रहा है. एक तस्वीर में एक महिला है और दूसरी तस्वीर में उसका जला हुआ चेहरा है. दावा किया जा रहा है कि ये लड़की हिंदू है जिस पर उसके मुस्लिम बॉयफ्रेंड ने हमला ​किया.

X
वायरल तस्वीर वायरल तस्वीर

हाल ही में चेन्नई की एक महिला को लंदन में उसके बांग्लादेशी प्रेमी ने कथित तौर पर अगवा कर लिया और उसका धर्म परिवर्तन कराया. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) इस घटना की जांच कर रही है. अपहरण और धर्मपरिवर्तन का ये मामला सामने आने के बाद भारतीय सोशल मीडिया पर लव जिहाद एक बार फिर से चर्चा का विषय बना हुआ है.

इसी बीच, सोशल मीडिया पर दो तस्वीरों का एक कोलाज वायरल हो रहा है. एक तस्वीर में एक महिला है और दूसरी तस्वीर में उसका जला हुआ चेहरा है. दावा किया जा रहा है कि ये लड़की हिंदू है जिसपर उसके मुस्लिम बॉयफ्रेंड ने हमला ​किया. एक इंस्टाग्राम यूजर ने ये ​कोलाज पोस्ट करते हुए लिखा है, “#lovejihad कह रही थी मेरा वाला ऐसा नही है हिन्दू बहनो अभी भी वक्त ह इन लोगो से दूर रहो. जयश्रीराम”.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि पोस्ट के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है. तस्वीर में दिख रही महिला मुस्लिम है, जिस पर 2017 में लंदन में एक गोरे आदमी ने हमला किया था.  

कई ट्विटर यूजर्स ने भी ये कोलाज पोस्ट करते हुए लव जिहाद का दावा किया है. पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है.  

AFWA की पड़ताल

रिवर्स सर्च की मदद से हमने पाया कि वायरल हो रहा फोटो कोलाज 'द टाइम्स ऑफ इंडिया' की फोटो गैलरी में भी मौजूद है. ये फोटो गैलरी एक उभरती हुई मॉडल रेशमा खान के बारे में थी. 21 जून, 2017 को लंदन के बेकटन में रेशमा खान और उसका चचेरा भाई जमील मुख्तार, दोनों ट्रैफिक में फंसे थे. इस दौरान जब वे अपनी कार में ट्रैफिक खुलने का इंतजार कर रहे थे, तभी जॉन टॉमलिन नाम के एक गोरे आदमी ने उन दोनों पर एसिड फेंका था. उस दिन रेशमा का 21वां जन्मदिन था.
 
'बीबीसी' की 2018 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जॉन ने “ये कबूल किया था कि उसने दोनों को शारीरिक नुकसान पहुंचाने के इरादे से उन पर हमला किया था”. इसके बाद उसे 16 साल की सजा हो गई थी.

John Tomlin

इस घटना को अंतरराष्ट्रीय मीडिया में खूब कवरेज मिली थी. न्यूज वेबसाइट 'Independent' के मुताबिक, रेशमा के भाई जमील का कहना था कि ये अटैक लंदन में बढ़ रहे इस्लामोफोबिया का नतीजा है.

कुछ महीने बाद रेशमा की हालत में सुधार होने लगा और उन्होंने अपनी कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की थीं. हाल-फिलहाल की उनकी कुछ तस्वीरें उनके ट्विटर और इंस्टाग्राम अकाउंट पर देखी जा सकती हैं.

Reshma Khan

इस पड़ताल से ये निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि वायरल पोस्ट में लड़की के जख्मी चेहरे के साथ लव जिहाद का दावा गलत है. लंदन में हुए इस एसिड अटैक में पीड़िता मुस्लिम थी, जिस पर एक गोरे व्यक्ति ने हमला किया था.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

लव जिहाद का शिकार हुई एक और हिंदू महिला की तस्वीर, जिस पर उसके मुस्लिम प्रेमी ने हमला किया.

निष्कर्ष

वायरल तस्वीर में मौजूद महिला मुस्लिम है, जिसका नाम रेशमा खान है. रेशमा पर 2017 में, लंदन में एक गोरे आदमी ने एसिड फेंका था.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें