scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: क्या सचमुच शबाना आजमी को कंगना रनौत ने दिया करारा जवाब?

रमज़ान शुरू होने के बाद से सोशल मीडिया पर एक बहस चल रही है. कहा ये जा रहा है कि शबाना आज़मी ने नवरात्र के मौके पर हिंदू देवी का अपमान करने वाली बात कही थी, जिसका कंगना रनौत ने करारा जवाब दे दिया.

X
Kangana Ranaut and Shabana Azmi Kangana Ranaut and Shabana Azmi

7 मई से रमज़ान के पाक महीने की शुरुआत हो गई और इसके साथ ही सोशल मीडिया पर एक गर्मा-गर्म बहस शुरू हो गई है. कहा ये जा रहा है कि शबाना आज़मी ने नवरात्र के मौके पर हिंदू देवी का अपमान करने वाली बात कही थी, जिसका कंगना रनौत ने करारा जवाब दे दिया है.

फेसबुक , ट्वीटर और व्हाट्सएप ग्रुप्स में कंगना की फोटो के साथ उनके हवाले से एक दावा किया जा रहा है कि 'दंबग कंगना के पलटवार से सन्न रह गई शबाना'

ट्वीटर पर इस पोस्ट को शेयर करने वालों में भारतीय रिजर्व बैंक के बोर्ड के सदस्य एस गुरूमूर्ति भी शामिल थे. हालांकि, बाद में उन्होंने ये कहते हुए अपना ट्वीट मिटा दिया कि उन्होंने भरोसे के काबिल पत्रकारों की जानकारी के आधार पर ये बात कही थी.

इंडिया टुडे फैक्ट चेक ने पाया कि कंगना रनौत के हवाले से जो बात कही जा रही है वो सरासर मनगढ़ंत है. खोजने पर हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली जिसमें कंगना के द्वारा ऐसा कहे जाने का जिक्र हो. इस बात की पुष्टि करने के लिए हमने कंगना के ऑफिस से संपर्क भी किया. उनका पब्लिक रिलेशन देखने वाली नेहा अंसारी ने हमें बताया कि उनके हवाले से जो बयान सोशल मीडिया पर चल रहा है वो पुराना है और इसमें कोई सच्चाई नहीं है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि शबाना आज़मी के जिस बयान का जिक्र हो रहा है वो भी गलत हो. दरअसल शबाना आजमी ने दो साल पहले दुर्गा अष्टमी के दौरान के दौरान एक ट्वीट में ऐसी ही कुछ बात कही थी.

पिछले महीने उनकी कही हुई बात में कुछ बदलाव करके उसे सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जाने लगा और इसको लेकर कुछ विवाद भी हुआ था. शबाना आजमी के बयान को लेकर पूरी कहानी यहां  पढ़ी जा सकती है.

कंगना ने शाबाना को उनके इस बयान के लिए भले की करारा जवाब नहीं दिया हो जैसा कि दावा किया जा रहा है, लेकिन शबाना और कंगना के बीच तनातनी की बात बेबुनियाद नहीं है. दरअसल, पुलवामा हमले के बाद कंगना ने शबाना आजमी को पाकिस्तान के एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का निमंत्रण स्वीकार करने के लिए देशद्रोही कह दिया था. इस बारे में DNA समेत कई अखबारों में रिपोर्ट छपी थी. बाद में शबाना आज़मी ने पाकिस्तान जाने का कार्यक्रम रद्द कर दिया था.

इन खबरों के मुताबिक कंगना ने कहा था कि शबाना आज़मी जैसे लोग भारत के टुकड़े- टुकड़े करने की बात करने वाले गैंग का समर्थन करते हैं. उन्हें जरूरत क्या थी कि पाकिस्तान में ऐसे कार्यक्रम का हिस्सा बनें. अब वो अपने इमेज को बचाने की कोशिश कर रही हैं. हमारी फिल्म इंडस्ट्री ऐसे देशद्रोही लोगों से भरी पड़ी है जो दुश्मनों का हौसला बढ़ाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें