scorecardresearch
 

वाजपेयी चाहते तो हजार 'बालाकोट' कर देते, लेकिन उन्होंने राजधर्म निभायाः महबूबा मुफ्ती

महबूबा मुफ्ती ने अटल बिहारी वाजपेयी को महान नेता बताया. एजेंडा आजतक के मंच से उन्होंने कहा कि वाजपेयी चाहते तो हजार बालाकोट कर देते.

महबूबा मुफ्ती महबूबा मुफ्ती
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महबूबा मुफ्ती ने अटल बिहारी वाजपेयी को बताया महान नेता
  • 56 नहीं, 67 इंच का था अटल बिहारी वाजपेयी का सीना- महबूबा

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एजेंडा आजतक के मंच से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर निशाना साधा. महबूबा मुफ्ती के तेवर बीजेपी को लेकर जहां तल्ख तेवर दिखाए तो वहीं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की लगे हाथ तारीफ भी की.

महबूबा मुफ्ती ने अटल बिहारी वाजपेयी को महान नेता बताया और कहा कि वे चाहते तो हजार बालाकोट कर देते. उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने ऐसा नहीं किया. अटल बिहारी वाजयेपी ने ऐसा न करके राजधर्म निभाया. अटल बिहारी वाजपेयी ने कश्मीर को दिल की नजरों से देखा. ये सरकार गोडसे का कश्मीर बनाना चाहती है. 

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी पाकिस्तान गए, हूर्रियत से बात की. परवेज मुशर्रफ को बुलाया. संसद चली, बात हुई. उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की काफी आलोचना हुई. ये भी कहा गया कि एक भी गोली दागे बिना चला आया. शायद उनको इसी वजह से चुनाव में हार मिली.

महबूबा मुफ्ती ने साथ ही ये भी कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी भले चुनाव हार गए, हम उन्हें सलाम करते हैं. महबूबा मुफ्ती ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी का सीना 56 इंच का नहीं, 67 इंच का है. उन्होंने अनुच्छेद 370 और 35 ए का मसला भी उठाया और ये भरोसा भी व्यक्त किया कि जम्मू कश्मीर को ये विशेषाधिकार लौटाने पड़ेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×