scorecardresearch
 
एजेंडा आजतक 2019

एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत

एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 1/22
पिछले 19 साल से लगातार भारत के नंबर वन न्यूज चैनल 'आजतक' के हिंदी जगत के महामंच 'एजेंडा आजतक' के आठवें संस्करण का आगाज सोमवार को हुआ. एजेंडा आजतक के पहले दिन महिला सुरक्षा, नागरिकता कानून, राम मंदिर पर तो महत्वपूर्ण चर्चा हुई ही इसके साथ ही साथ देश की अर्थव्यवस्था और टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों पर भी बात हुई. इस दौरान देश की तमाम प्रसिद्ध हस्तियों ने कार्यक्रम में शिरकत की और अपने विचार रखे.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 2/22
इंडिया टुडे ग्रुप की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि हम एक कठिन मोड़ पर हैं इसलिए और भी जरूरी है कि बातों पर खुलकर चर्चा हो शांति से बात पर विचार हो. बात हर तरफ से समझी जाए और हर नजर से देखी जाए. कोई रोक नहीं कोई दबाव नहीं यही हमारा प्रयास है.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 3/22
निर्भया की मां बोलीं- जवाब देते-देते खुद एक सवाल बन गई

'पूछता है आजतक- महिलाएं असुरक्षित कब तक' सेशन में निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि आज वही तारीख है, 16 दिसंबर 2019 है. मैंने 7 साल बहुत धैर्य के साथ लड़ाई लड़ी. लेकिन मैं आज भी 2012 में ही खड़ी हूं. मैं आज भी हाथ जोड़कर रोड पर खड़ी हूं कि मुझे इंसाफ चाहिए. मैं 7 साल से जवाब देते-देते खुद एक सवाल बन गई हूं. आज पूछना चाहती हूं कि जो घटना 2012 में घटी उसमें निर्भया की क्या गलती थी. हमारी क्या गलती थी जो हम पिछले 7 साल से झेल रहे हैं.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 4/22
रीता बहुगुणा जोशी बोलीं- लंबा खिंचा निर्भया का मामला: 

बीजेपी सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि निर्भया का मामला इतना लंबा खिंचा, ऐसा नहीं होना चाहिए था. बलात्कारों पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि यह सामाजिक समस्या है. हमें दोषारोपण बंद करके इसका समाधान निकालने की तरफ बढ़ना चाहिए. बहुत सारे कानून बने हैं. हर तरह के अपराधों को रोकने की कोशिश हो रही है.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 5/22
अनुप्रिया पटेल बोलीं- टाइम बाउंड जस्टिस बहुत जरूरी: 

सांसद एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष अपना दल अनुप्रिया पटेल बोलीं समस्या के मूल में दो ही बातें हैं. पहली बात यह है कि समयबद्ध तरीके से जांच नहीं हो पाती है. और दूसरा यह कि एक निश्चित अवधि में हम न्याय नहीं दे पाते हैं. देश में कड़े से कड़े कानून बने हैं.

जब कोई मुद्दा आता है तो उसके खिलाफ करेक्टिव मेजर्स लिए जाते हैं. अब हम देख रहे हैं कि टाइम बाउंड जस्टिस बहुत जरूरी है. कन्विक्शन रेट खराब है. हमारे पास जजों की कमी है, लाखों केस पेंडिंग हैं. हमें हमारे सिस्टम के लूप होल्स खत्म करने होंगे. सिस्टम को मजबूत करना एक लगातार चलने वाली प्रक्रिया है. इसलिए जितनी चीजें होनी चाहिए वो नहीं हो पा रही हैं. संसद में हम लगातार इसके लिए प्रयास कर रहे हैं.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 6/22
'एजेंडा आजतक' के मंच पर न्याय में देरी को लेकर चर्चा'एजेंडा आजतक' के 'देर है तो अंधेर है' सेशन में पूर्व न्यायाधीश जस्टिस उषा मेहरा, पूर्व पुलिस आयुक्त नीरज कुमार, मानवाधिकार कार्यकर्ता जॉन दयाल और सुनील गुप्ता शामिल हुए.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 7/22
पूर्व पुलिस आयुक्त बोले- पुलिस के पास स्टॉफ की कमी: 

'एजेंडा आजतक' के 'देर है तो अंधेर है' सेशन में पूर्व पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने कहा कि पुलिस के पास इतना स्टाफ नहीं होता कि वो लॉ एंड ऑर्डर और जांच के लिए अलग-अलग टीम में बांटी जा सके.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 8/22
निर्भया के दोषियों को फांसी जरूरी:

जल्लाद पवन कुमार बोले- निर्भया के दोषियों को फांसी जरूर मिलनी चाहिए. मुझे बुलाया गया तो मैं जरूर जाऊंगा. ये मेरा खानदानी पेशा है. जो काम उन्होंने किया उसके लिए उन्हें फांसी मिलनी ही चाहिए. मैं 5 बार दो-दो लोगों को फांसी दे चुका हूं. यह पहली बार होगा जब 4 लोगों को फांसी दूंगा. मेरे दादा जी का रिकॉर्ड तोड़ेगा ये.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 9/22
गुलाम नबी आजाद बोले- मैं 4 घंटे जमीन पर बैठा:

जम्मू-कश्मीर विभाजन पर गुलाम नबी आजाद ने बात करते हुए कहा कि यह बिल सदन की कार्यवाही में शामिल नहीं था. लेकिन जब वहां पेश हुआ तो यह हमारे लिए झटका था. मेरा पहला रिएक्शन था कि मैं 4 घंटे जमीन पर बैठा यह टेलीविजन ने नहीं दिखाया. मेरे पूरे कार्यकाल में मैं पहली बार इतनी देर तक जमीन पर बैठा था.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 10/22
जितेंद्र सिंह बोले- प्रदर्शनों में कांग्रेस की भूमिका रही: 


केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने बिल के टाइमिंग पर कहा कि इसे अर्थव्यवस्था से जोड़कर न देखा जाए तो अच्छा है. पहले कुछ दिन वहां असर दिखा जहां इसका प्रभाव पड़ना था और वह दो-तीन दिन में शांत हो गए. लेकिन बाद में अन्य जगहों पर प्रदर्शन हुए. शुरुआत में जब नॉर्थ-ईस्ट में प्रदर्शन हुआ तो कुछ विपक्षी दल मुख्य तौर पर कांग्रेस की भूमिका रही. सबसे पहले राहुल गांधी का रिएक्शन आया.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 11/22
नकवी बोले- सहमति और असहमति के बीच हिंसा नहीं हो सकती: 

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने जामिया मामले पर कहा कि सहमति और असहमति के बीच हिंसा नहीं हो सकती. चाहे पुलिस की हिंसा हो या दूसरे तरफ की हिंसा हो दोनों गलत है. हिंसा को बढ़ावा देना भी गलत है. उसका राजनीतिक फायदा उठाना भी गलत है.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 12/22
ओवैसी बोले- जब वकील से झगड़ा होता है तो पुलिस धरना देती है: 

एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि जब वकील से झगड़ा होता है तो पुलिस चूड़ियां पहन लेती है, पुलिस धरना देती है. और जब छात्रों ने आवाज उठाई तो पुलिस बिना वीसी से परमिशन लिए कैंपस में घुसती है.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 13/22
एजेंडा आजतक में अयोध्या में राम मंदिर पर चर्चा: 

'एजेंडा आजतक' के 'मंदिर वहीं बनेगा' सत्र में राम जन्मभूमि न्यास के सदस्य राम विलास वेदांती, राम लला मंदिर के मुख्य पुजारी महंत सत्येन्द्र दास, विश्व हिन्दू परिषद के नेता श्री आचार्य धर्मेन्द्र और अयोध्या रीविजिटेड के लेखक किशोर कुणाल शामिल हुए.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 14/22
'एजेंडा आजतक' में अजय देवगन और काजोल:

'एजेंडा आजतक' के 'यू, मी और हम' सत्र में अभिनेता अजय देवगन और अभिनेत्री काजोल ने हिस्सा लिया. सत्र के दौरान दोनों ने पहले अपनी पारिवारिक जिंदगी के बारे में बातें की. उसके बाद दोनों की फिल्मों पर चर्चा हुई
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 15/22
'एजेंडा आजतक' के मंच पर धर्मेंद्र प्रधान और मनीष तिवारी देश के मौजूदा अर्थव्यवस्था और कारोबार की स्थिति को लेकर चर्चा के लिए 'एजेंडा आजतक' के 'धंधा है पर मंदा है!' सत्र में केन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी शामिल हुए.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 16/22
रिजिजू बोले- हमारे देश में खेल का कल्चर नहीं है: 

केन्द्रीय खेल राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि हमारे देश में खेल को कल्चर नहीं है. मेडल आता है तो सेलिब्रेट करते हैं नहीं तो खिलाड़ियों को कोई पहचानता भी नहीं है. अंग्रेजों के आने के बाद क्रिकेट को लेकर थोड़ा सा माहौल जरूर बना.

खिलाड़ी एक साल में पैदा नहीं होता. आज हमने जो तैयारी किया उसका रिजल्ट कई साल बाद आएगा. बीजिंग में पहली बार हमारे पास मल्टीपल मेडल आए. हमारे दिल में था कि हम क्यों मेडल के लिए तरसते हैं. मेरे मन में था कि इतना बड़ा देश, युवाओं का देश फिर भी मेडल के लिए तरसना, ये अखरता था. फिर हमने पूरे फेडरेशन को टारगेट दिया. दोनों ओलंपिक के लिए तैयारी अलग-अलग चल रही है. टोक्यो के लिए तो लगभग तैयारी पूरी हो चुकी है.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 17/22
बाबा रामदेव के साथ खेल मंत्री और खिलाड़ियों का पुश-अप चैलेंज: 

एजेंडा आजतक के मंच पर बाबा रामदेव समेत ओलंपिक में देश का नाम ऊंचा करने वाले खिलाड़ियों के साथ पुश-अप चैलेंज हुआ. उसके बाद देश के खेल राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने भी सबके साथ पुश-अप्स किए.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 18/22
रामदेव बोले- हमने व्यापार के लिए नहीं ली रुचि: 

'बाबा ये बिंदास है' सत्र में योग गुरु स्वामी रामदेव ने शिरकत की और तमाम मुद्दों पर अपनी बात रखी. रुचि सोया कंपनी के टेकओवर पर बाबा रामदेव ने कहा कि एक दिवालिया हो रही कंपनी को हमने दिवालिया होने से बचाया है. उसमें काम करने वाले हजारों लोगों को बेरोजगार होने से बचाया है. अब हम इसमें कई हजार और लोगों को रोजगार देंगे और लाखों किसानों के जीवन में समृद्ध आएगी. रुचि सोया कंपनी हमने व्यापार के लिए नहीं ली.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 19/22
दिल्ली के सीएम चेहरे पर बोले हरदीप सिंह पुरी- यह विधायक तय करेंगे: 

'एजेंडा आजतक' हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि दुनियाभर में लोगों को मालूम है कि मुख्यमंत्री का चेहरा बीजेपी पार्टी नहीं चुनाव के बाद जीत कर आने वाले विधायक चुनते हैं. आपको क्या लगता है कि एक कैबिनेट मंत्री इस पर घोषणा कर सकते हैं. मनोज तिवारी दिल्ली बीजेपी के नेता हैं. उनके नेतृत्व में हम चुनाव लड़ रहे हैं. तो उस लिहाज से बात चल गई लेकिन विधायक ही तय करेंगे कि मुख्यमंत्री कौन होगा. हमारे पास 3-4 चेहरे ऐसे हैं जो मुख्यमंत्री बनने के लिए परफेक्ट हैं.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 20/22
'तेरा जादू चल गया' सेशन में तुषार ने दिखाए अपने करतब: 

'एजेंडा आजतक' के 'तेरा जादू चल गया' सत्र में नए पीढ़ी के जादूगर तुषार ने अपने करतब दिखाए. तुषार ने पहले एक केज में आग के जरिए लड़की निकाल कर दिखाई उसके बाद उसी लड़की को हवा में उठाकर भी दिखाया.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 21/22
मीका सिंह ने की गब्बर और बिग बी की मिमिक्री: 

मीका सिंह ने गब्बर सिंह और अमिताभ बच्चन की मिमिक्री भी की. इस दौरान मीका सिंह ने बिग बी के ऊपर फिल्माए गए गाने रंग बरसे भीगे चुनर वाली भी गाकर सुनाया.
एजेंडा आज तक 2019: हिंदी के महामंच पर पहले दिन इन हस्तियों ने की शिरकत
  • 22/22
पहले दिन के अंतिम सत्र में पहुंचे अरविंद केजरीवाल एजेंडा आजतक के पहले दिन के अंतिम सत्र 'फिर 5 साल केजरीवाल?' 

सत्र में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शिरकत की. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कुछ दिन पहले मेरे पास एक बीजेपी कार्यकर्ता आया और उसने कहा कि मैं इस बार आपको वोट दूंगा क्योंकि मेरा अकेला बेटा है, उसका भविष्य अंधेरे में नजर आता था. आपने जो सरकारी स्कूलों में बदलाव किया उससे मुझे उम्मीद मिली है.

आपने मेरे बेटे का भविष्य बना दिया. अब अगर मैंने आपको वोट नहीं दिया तो मैं अपने बेटे अपने परिवार के साथ गद्दारी करूंगा. हमने पिछले 5 सालों में अपने विरोधियों का दिल जीता है, दुआएं कमाई हैं. हमने पिछले 5 सालों में हमने सबके लिए काम किया है.