scorecardresearch
 

देश का पीएम बनने के लिए राहुल गांधी 100% तैयार: सिंधिया

एजेंडा आजतक के सातवें सीजन में पहुंचे कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि हमने बीजेपी को 3 राज्यों में हरा दिया है, अगला चुनाव बीजेपी वर्सेज जनता होगा.

अजेंडा आजतक में कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया [फोटो-आजतक] अजेंडा आजतक में कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया [फोटो-आजतक]

बीजेपी के खिलाफ यूपीए गठबंधन मजबूती से चुनाव लड़ेगा. यह यूपीए के नेता तय करेंगे कि प्रधानमंत्री कौन हो. हम बीजेपी नहीं हैं कि एक आदमी को पूरे देश पर थोप दिया जाए. लेकिन राहुल गांधी देश को देश का पीएम बनना चाहिए, वह इसके लिए 100 प्रतिशत तैयार हैं, यह कहना है कांग्रेस के सांसद और मध्य प्रदेश के कैंपेन इंचार्ज ज्योतिरादित्य सिंधिया का. वह एजेंडा आजतक में राजदीप सरदेसाई के सवालों का जवाब दे रहे थे.

सिंधिया ने कहा कि राहुल गांधी में वह क्षमता है कि वह देश को आगे ले जा सकते हैं. वह गरीबों और मजलूमों की आवाज बन सकते हैं. वह किसानों का दर्द समझते हैं. ज्योतिरादित्य ने कहा कि तीन प्रदेशों के जो चुनाव हुए हैं वह बीजेपी बनाम जनता हुए हैं और 2019 के लोकसभा चुनाव बीजेपी बनाम देश की जनता होंगे. उन्होंने उम्मीद जताई कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने में यूपीए कामयाब होगा. 

यूपीए चुनेगा नेता

मोदी बनाम कौन के सवाल पर उन्होंने कहा कि यूपीए गठबंधन का नेता यूपीए चुनेगा, यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं. गठबंधन के हर नेता के साथ विचार-विमर्श के बाद यह निर्णय लिया जाएगा. यह चुनाव के पहले होगा या बाद में यह अभी नहीं बताया जा सकता. लेकिन मेरे हिसाब से राहुल गांधी को देश का पीएम होना चाहिए, उनमें देश को आगे ले जाने की क्षमता है वह 100 पर्सेंट इसके लिए तैयार हैं.

इस सवाल पर कांग्रेस अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया या सचिन पायलट क्यों नहीं हो सकते. सिंधिया का कहना था कि कांग्रेस एक लोकतांत्रिक पार्टी है और पंचायत से लेकर ऊपर तक चुनाव होते हैं किसने सिंधिया को रोका है लड़ने से. लेकिन मेरी राय है कि राहुल गांधी हमारे नेता हों तो इसमें किसी मतभेद की बात नहीं है.  

सीएम न बनाए जाने का दुख नहीं

सीएम न बनाए जाने पर सिंधिया ने कहा कि सबका एंबिशन होता है लेकिन क्या पद पाकर ही जनता की सेवा की जा सकती है. अगर जनता की सेवा का संकल्प हो तो बिना पद के भी की जा सकती है. उन्होंने कहा कि कमलनाथ को सीएम बनाए जाने से उन्हें खुशी है और उनकी पार्टी ने उन्हें बहुत कुछ दिया है. इतनी कम उम्र में वो सांसद बन गए, तीन-तीन विभागों को मंत्री रहे. मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार भी उन्हें मिला और क्या चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें