scorecardresearch
 

रेप मामलों से दुखी रेणुका शहाणे ने 146 शब्दों में लिखी FB पोस्ट, वायरल

सोशल मीडिया पर ज्वलंत मुद्दों पर लिखने वालीं एक्ट्रेस रेणुका शहाणे ने अपने फेसबुक अकाउंट पर लंबा पोस्ट शेयर कर रेप को मानवता के खिलाफ अपराध बताया है. उन्होंने कहा है कि पीड़ित और आरोपी का धर्म कभी मायने नहीं रखना चाहिए.

रेणुका शहाणे रेणुका शहाणे

सोशल मीडिया पर ज्वलंत मुद्दों पर लिखने वालीं एक्ट्रेस रेणुका शहाणे ने अपने फेसबुक अकाउंट पर लंबा पोस्ट शेयर कर रेप को मानवता के खिलाफ अपराध बताया है. उन्होंने कहा है कि पीड़ित और आरोपी का धर्म कभी मायने नहीं रखना चाहिए.

रेणुका का पोस्ट 8 साल की आसिफा के गैंगरेप-मर्डर और उन्नाव में 17 साल की लड़की द्वारा बीजेपी विधायक के खिलाफ लगाए गए बलात्कार के आरोप के बाद आया है. 146 शब्दों में लिखा उनका पोस्ट वायरल हो रहा है. उन्होंने लिखा- जो बच्चों का बलात्कार करते हैं, उन्हें जीने का हक नहीं है. जो किसी बच्चे के बलात्कार की योजना बनाते हैं, जो इस योजना में साथ देते हैं और सबूत मिटाने में मदद करते हैं और पैसे के लिए चुप रहते हैं-वो मानव नहीं हैं.

कठुआ गैंगरेप पर फरहान बोले- अगर चुप हैं तो आप इंसान नहीं हो सकते

इसके पहले आसिफा गैंगरेप के खिलाफ कई सिलेब्स अपनी आवाज उठा चुके हैं. फरहान अख्तर और सिमी ग्रेवाल ने अपने फॉलोअर्स से लड़की को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाने की गुजारिश की. फरहान ने कहा, जरा सोचिए कि 8 साल की बच्ची पर क्या बीतती होगी जब उसको ड्रग्स देकर कई दिनों तक गैंगरेप किया जाता हो. उसकी जान चले जाना बड़े दुख की बात है. अगर आप इसे एक बेहद खौफनाक हरकत नहीं मानते हैं तो आप इंसान नहीं हैं. अगर आप उसे न्याय दिलाने की गुहार नहीं लगा सकते तो आप किसी काम के नहीं हैं.

सिमी ग्रेवाल ने लिखा- संसार में इंसान से ज्यादा निर्दयी जीव और कोई नहीं हो सकता. आसिफा का बलात्कार करने वाले लोग दानव हैं. कोई इतनी छोटी सी बच्ची के साथ ऐसा कैसे कर सकता है. मेरा सिर्फ एक ही सवाल है कि आखिर भगवान कहां है.

जावेद अख्तर ने भी एक ट्वीट में कहा है - जो लोग महिलाओं के हित में आवाज उठाते हैं उन्हें कठुआ और उन्नाव में रेप विक्टिम्स को सही न्याय दिलाने के लिए अपनी आवाज बुलंद करनी चाहिए.''

बता दें कि यह पूरा मामला 12 जनवरी को सामने आया था जब लड़की के पिता मोहम्मद यूसुफ ने हीरानगर थाने में केस दर्ज कराया था. इसके मुताबिक, 10 जनवरी को करीब 12:30 बजे आसिफा जंगल में घोड़े के लिए चारा लेने गई थी, जिसके बाद वह नहीं लौटी. उनकी शिकायत के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज की. जांच में पता चला कि उसे बंधक बनाकर एक मंदिर में रखा गया और कई दिनों तक रेप किया गया. बाद में उसकी हत्या कर दी गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें