scorecardresearch
 

सेंसर बोर्ड चीफ बनने के बाद प्रसून के पास आई पहली फिल्म, हुई बैन

प्रसून जोशी ने सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर कार्यभार संभालने के बाद  पंजाबी फिल्म 'तूफान सिंह' को  बैन कर दिया है. फिल्म में हिंसात्मक कंटेट की वजह से यह कदम उठाया गया है.

Toofan Singh Still/ Prasoon Joshi Toofan Singh Still/ Prasoon Joshi

प्रसून जोशी को सेंसर बोर्ड का नया अध्यक्ष बनाए जाने के बाद फिल्म इंडस्ट्री को पहला झटका लगा है. पंजाबी फिल्म 'तूफान सिंह' को CBFC ने बैन कर दिया है.

पंजाबी फिल्म 'तूफान सिंह' को बाघेल सिंह ने डायरेक्ट किया है. इस फिल्म के हीरो रणजीत बावा हैं, जोकि देश के सिस्टम और राजनीति में मौजूद भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए आतंकवादी गतिविधियों का सहारा लेता है. फिल्म के हिंसात्मक कंटेट को देखते हुए सेंसर बोर्ड ने इसे बैन किया है.

CBFC से जुड़े सूत्र बताते हैं- फिल्म में तूफान सिंह एक आतंकवादी का रोल अदा करता है, जो भ्रष्ट नेताओं और पुलिसवालों को निर्मम हत्या करता है. हद तो तब हो गई जब मेकर्स ने फिल्म में तूफान सिंह की तुलना शहीद भगत सिंह से दिखाई. यह फिल्म बेहद ही क्रूर और अराजक है. हम इस तरह की क्रूरता के संदेश के प्रति किसी तरह की सहानुभूति नहीं रख सकते.

प्रसून जोशी करते थे किसी कंपनी में काम, लज्जा से मिली बॉलीवुड में एंट्री

फिल्म 'तूफान सिंह' को लेकर खास बात है कि यह फिल्म ओवरसीज में 4 अगस्त को रिलीज हो चुकी है. जबकि इसका भविष्य भारत में अधर में लटका हुआ नजर आ रहा है.

सेंसर की कमान प्रसून जोशी के हाथ में आने से बॉलीवुड में बल्ले-बल्ले

CBFC में ‘संस्कारी’ सेंसरशिप देने के लिए मशहूर पहलाज निहलानी का कार्यकाल खत्म होने के बाद फिल्म इंडस्ट्री ने राहत की सांस ली थी. सोचा था कि अब फिल्म सर्टिफिकेशन में कोई दिक्कत नहीं आएगी. लेकिन प्रसून जोशी का यह कदम मेकर्स के लिए सैटबैक साबित हो सकता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें