scorecardresearch
 

अमिताभ बच्चन ने ब्लॉग लिखकर कहा- मुझे सुर्खियां नहीं चाहिए, बख्श दें

अमिताभ बच्चन ने लंबी पोस्ट लिखकर ब्लॉग के जरिये की मीडिया की खिंचाई

अमिताभ बच्चन अमिताभ बच्चन

अमिताभ बच्चन अक्सर अपने मन की बातें सोशल मीडिया पर शेयर करते रहते हैं. कभी ट्विटर के जरिये वो अपनी भावनाओं का इजहार करते हैं, तो कभी उनकी लंबी-लंबी ब्लॉग पोस्ट भी पढ़ने को मिलती हैं. एक बार फिर उन्होंने अपने ब्लॉग पर ऐसी ही लंबी पोस्ट लिखी है. इसकी शुरुआत तो उन्होंने धर्म, आस्था और तर्क से जुड़े विषय को लेकर की है, लेकिन इसके बाद उन्होंने न सिर्फ मीडिया के कामकाज की समीक्षा की है, बल्कि बीएमसी द्वारा उन्हें भेजे गए अवैध निर्माण के नोटिस का भी जिक्र किया है.

मीडिया की स्वतंत्रता पर सवाल

बिग बी ने लिखा है- आजकल मीडिया पहले की तुलना में काफी ज्यादा स्वतंत्र है.  उस पर किसी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं है. इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट की तुलना में ज्यादा तेज है और जल्दी से खबर दिखा देता है. सुबह के अखबार को आप रात को ही इंटरनेट पर पढ़ सकते हैं. सोशल मीडिया के जरिये हेडलाइंस बन जाती हैं.

बगंले के अवैध निर्माण पर अमिताभ बच्चन को BMC का नोटिस

ऐसे में जब मीडिया सवाल करता है, तो आपको प्रतिक्रिया देनी होती है. मैं इस तरह ये प्रतिक्रिया दे रहा हूं. इसके बाद अमिताभ ने अवैध निर्माण के संबंध में नोटिस का जवाब दिया है.

गर्दन में दर्द से परेशान हैं अमिताभ बच्चन, ब्लॉग पर जाहिर किया दर्द

ये मैं अपने लिए कह रहा हूं. कई मामलों में मुझे चुप रहना सही लगता है,मगर कई मामलों में गलत को सही करना पड़ता है. फिर मुद्दा ये भी है कि क्या मीडिया को प्रतिक्रिया देने से समस्या का समाधान होगा. समाधान प्रशासनिक स्तर पर होगा, न कि मीडिया के स्तर पर.  इसलिए पहले जांच-पड़ताल की प्रक्रिया पूरी होने दी जानी चाहिए...

बोफोर्स मामले में नाम पर जवाब

अमिताभ यहीं नहीं रुके, इसके बाद उन्होंने बोफोर्स से लेकर पनामा पेपर्स लीक तक के सभी मामलों पर अपनी भावनाएं जाहिर कीं. उन्होंने लिखा,  मेरे और मेरे परिवार पर बोफोर्स मामले को लेकर भी आरोप लगे, सालों तक हमें इसे लेकर सवालों का सामना करना पड़ा. जब ये बर्दाश्त से बाहर हुआ, तब हम ब्रिटेन के कोर्ट में गए, ताकि हमें न्याय मिले और हमें जीत मिली.

PHOTOS: मालदीव में परिवार ने ऐसे मनाया अमिताभ बच्चन का बर्थडे

'नहीं चाहता सुर्खियां'

इस पोस्ट के आखिर में वह लिखते हैं, ''इस उम्र में मैं किसी भी तरह की ख्याति से आजादी और शांति चाहता हूं...अपने जीवन के बाकी के कुछ साल मैं अपने साथ जीना चाहता हूं...मुझे सुर्खियां नहीं चाहिए...मैं इनके काबिल नहीं हूं...मुझे पहचान नहीं चाहिए...मैं इसके योग्य नहीं हूं...

'कौन बनेगा करोड़पति' शो के लॉन्च होने से पहले टीबी से जूझ रहे थे अमिताभ बच्चन

चुटकुले के जरिये रखी मन की बात

सालों पहले मैंने एक चुटकुला पढ़ा था- एक यहूदी की मौत हो गई और वो स्वर्ग गया...उसने भगवान का दरवाजा खटखटाया. उसे अपने समुदाय से बहिष्कृत कर दिया गया था.

उसने भगवान से पूछा- हे भगवान क्या ये सच है कि आपने खासतौर पर इस दुख के लिए हमें चुना है

भगवान ने अपनी कृपा भरी दृष्टि से यहूदी को देखा और बेहद दयालु स्वर में जवाब दिया- हां मेरे पुत्र

तब यहूदी ने कहा- हे भगवान, क्या अब आप किसी और को चुन सकते हैं...क्योंकि मैं अब बर्दाश्त नहीं कर सकता.

मैं अक्सर अपने लिए यही प्रार्थना करता हूं. ''

बीएमसी ने भेजा था नोटिस

बता दें कि बीते दिनों बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन के गोरेगांव स्थित नए बंगले पर विवाद खड़ा हो गया था. BMC (बृहनमुंबई महानगरपालिका) ने बिग बी को अवैध निर्माण करने के लिए नोटिस जारी किया था. अवैध निर्माण का खुलासा RTI के जरिए हुआ था.  BMC ने ये नोटिस MRTP एक्ट के तहत जारी किया था. हालांकि इस मामले में उनके वकील ने ये साफ किया था कि अमिताभ ने किसी तरह का कोई अवैध निर्माण नहीं किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें