scorecardresearch
 

अक्षय कुमार की टॉयलेट में सेंसर बोर्ड ने लगाए 8 कट, बताई ये वजह...

अक्षय कुमार की टॉयलेट भले ही सफाई अभियान को बढ़ावा देने वाली हो लेकिन सेंसर बोर्ड ने 8 कट्स लगाकर इसकी भी सफाई कर दी है...

Toilet Ek Prem Katha Toilet Ek Prem Katha

एनडीए सरकार के करीबी माने जाने वाले अक्षय कुमार की अपकमिंग फिल्म् टॉयलेट एक प्रेमकथा भी सेंसर बोर्ड की कैंची से नहीं बच सकी है. स्वच्छता अभियान को बढ़ावा देने वाली इस फिल्म की सफाई के लिए सेंसर बोर्ड ने निर्माताओं को आठ वर्बल कट्स लगाने के आदेश दिए हैं.

एक सीन में अक्षय कुमार अपनी ऑनस्क्रीन पत्नी यानी भूमि पेडनेकर से कहते हैं तुमने मुझे तीन बार जगाया है, मैं कोई सांड हूं क्या. एक अन्य सीन में एक कैरेक्टनर कहता है कि वह एक रस्सी को कान पर लगाकर लघुशंका करने जाता है. यानी जनेउ की ओर इशारा है.

सेंसर बोर्ड से जुड़े एक सू्त्र का कहना है कि फिल्म में अक्षय कुमार के किरदार द्वारा कहे गए संवाद न तो मनोरंजक हैं और न ही इनको सही सेंस में दर्शाया गया है. इन कट़स पर अभी फिल्म निर्माताओं की प्रतिक्रिया आनी बाकी है.

बता दें कि ये टॉयलेट एक प्रेमकथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान पर है, बावजूद इसके सेंसर बोर्ड ने इसके कुछ सीन पर आपत्त‍ि जताई है.

अक्षय कुमार कह चुके हैं कि वे अपनी इस फिल्म की स्क्रीनिंग प्रधानमंत्री मोदी के लिए रखेंगे. यह फिल्मस 11 अगस्त को रिलीज हो रही है. आइडिया चोरी का आरोप लगने के बाद फिल्म पहले ही विवादों में रह चुकी है. फिल्म के लेखकों ने इस पर सफाई देते हुए कहा था कि वे इस कहानी पर 2012 से काम कर रहे हैं. फिलहाल अक्षय और भूमि टॉयलेट एक प्रेमकथा के प्रमोशन में बिजी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें