scorecardresearch
 

जया का समर्थन-कंगना पर वार, शिवसेना नेता संजय राउत बोले- आरोप लगाने वालों का डोप टेस्ट हो

संसद में लगातार दूसरे दिन फिल्म इंडस्ट्री के ड्रग्स कनेक्शन का मसला गूंजा. जया बच्चन ने फिल्म इंडस्ट्री का नाम खराब करने का आरोप लगाया, अब उनके समर्थन में शिवसेना भी आ गई है. 

संजय राउत ने किया जया बच्चन का समर्थन संजय राउत ने किया जया बच्चन का समर्थन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जया बच्चन के समर्थन में आई शिवसेना
  • जया ने बिल्कुल ठीक बात कही: संजय राउत
  • सवाल उठाने वालों का टेस्ट हो: शिवसेना

बॉलीवुड में ड्रग्स कार्टेल के मसले पर देश की संसद में हंगामा हो गया है. समाजवादी पार्टी की सांसद और अभिनेत्री जया बच्चन ने मंगलवार को राज्यसभा में इस मसले को उठाया और बॉलीवुड का नाम खराब करने की साजिश करार दिया. अब जया बच्चन के समर्थन में कई बयान आ रहे हैं, शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि जया बच्चन का बयान बिल्कुल सही है.

संजय राउत बोले कि कंगना रनौत ने जो बयान दिया है, उसपर बच्चन परिवार जवाब दे सकता है. शिवसेना नेता ने कहा कि कंगना रनौत शिवसेना के आदित्य ठाकरे के बारे में जो भी आरोप लगा रही हैं, उन्हें गृह मंत्रालय, गृह सचिव और एजेंसियों को सबूत देने चाहिए.

शिवसेना नेता ने कहा कि जो लोग भी सवाल खड़े कर रहे हैं, पहले उनका ही डोप टेस्ट होना चाहिए. अगर अंतरराष्ट्रीय रास्तों से ड्रग्स आ रहा है तो ये केंद्र और केंद्रीय एजेंसियों की जिम्मेदारी है. अगर किसी इंडस्ट्री में कुछ बुरे लोग हैं, तो इसका मतलब ये नहीं कि पूरी इंडस्ट्री को ही बदनाम कर दो.

संजय राउत के अलावा शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने भी जया बच्चन का समर्थन किया. प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट में लिखा कि जया जी ने बिल्कुल शानदार बोला. उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में काम किया है, यही वजह से ही वो उनके समर्थन में आई हैं. फिल्म इंडस्ट्री देश की शक्ति है, ऐसे में उसे बदनाम करना ठीक नहीं है.

 

जया बच्चन ने राज्यसभा में दिया था बयान
आपको बता दें कि जया बच्चन में राज्यसभा में कहा कि कुछ लोगों के द्वारा फिल्म इंडस्ट्री को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने बीजेपी सांसद रवि किशन पर भी निशाना साधा था.

इसी पर टिप्पणी करते हुए कंगना रनौत ने कहा था कि जया जी, आप तब भी वही बात कहेंगी, अगर मेरी जगह आपकी बेटी श्वेता को टीनएज में पीटा जाता, ड्रग दिया जाता और छेड़छाड़ की जाती. क्या आप तब भी ये ही कहती अगर अभिषेक लगातार बुलिंग और उत्पीड़न की शिकायत करता और एक दिन फांसी पर लटका मिले? हमारे लिए भी करुणा से हाथ जोड़कर दिखाएं.

 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें