scorecardresearch
 

Review: चार साल बाद बॉबी की वापसी, पर कमजोर निकली 'पोस्टर बॉयज'

फिल्म में सनी देओल, बॉबी देओल और श्रेयस तलपड़े ने शानदार एक्टिंग की है, लेकिन फिल्म की कहानी में कसावट नजर नहीं आती. कॉमेडी के नाम पर पुराने जोक्स का इस्तेमाल बोर करता है.

पोस्टर बॉयज पोस्टर बॉयज

फिल्म का नाम : पोस्टर बॉयज

डायरेक्टर:  श्रेयस तलपड़े  

स्टार कास्ट: सनी देओल, बॉबी देओल, श्रेयस तलपड़े ,सोनाली कुलकर्णी , समीक्षा भटनागर , भारती आचरेकर

अवधि:2 घंटा 11 मिनट

सर्टिफिकेट: U /A

रेटिंग: 2 स्टार

 

श्रेयस तलपड़े ने साल 2014 में एक मराठी फिल्म ' पोश्टर बॉयज ' प्रोड्यूस की थी. इस फिल्म को काफी तारीफ मिली थी. अब साल 2017 में इसी फिल्म का हिंदी रीमेक उन्होंने 'पोस्टर बॉयज' के नाम से बनाया है. फिल्म में सनी देओल और बॉबी देओल को एक साथ बड़े परदे पर देखने का मजा भी आप ले सकते हैं.  मगर देखना ये होगा कि क्या यह फिल्म दर्शकों के मानकों पर खरी उतरेगी?

 कहानी

इस फिल्म की कहानी हरियाणा के एक गांव की है. सरकार की एक गलती के कारण इस गांव के तीन आदमियों की तस्वीर (सन्नी देओल, बॉबी देओल और श्रेयस तलपड़े) नसबंदी से जुड़े एक पोस्टर पर छप जाती है. यहीं  से तीनों की जिंदगी में तरह-तरह की परेशानियां खड़ी हो जाती हैं.  गांव के लोग उनकी मर्दानगी पर सवाल उठाने लगते हैं. इस वजह से किसी की बहन की शादी नहीं हो पाती , किसी की पत्नी उसे छोड़कर चली जाती है, तो किसी की अपनी ही शादी में व्यवधान सामने आने लगता है. अब सरकार के खिलाफ ये तीनों लोग एक आंदोलन शुरू कर देते हैं. आखिर इस आंदोलन का नतीजा क्या होता है...ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी.

 कमजोर कड़ियां

चार साल बाद बॉबी देओल ने बड़े परदे पर वापसी की है. फिल्म का प्लाट काफी कमजोर है, जबकि ये बहुत ही अच्छी कॉमेडी फिल्म बन सकती थी. फिल्म एक वक्त के बाद काफी दिशाहीन भी लगने लगती है। फिल्म में 80 के दशक के जोक्स इस्तेमाल किये गए हैं. इनमें बहुत कम ऐसी जगहें हैं, जहां आपको हंसी आती है। स्क्रीनप्ले भी बहुत हिला-डुला है. इसे दुरुस्त किया जा सकता था, क्योंकि नसबंदी की जो बात पहले से ट्रेलर में दिखाई जा चुकी थी, उसे ही छुपा-छुपाकर इंटरवल तक खींचा गया है. ये देखना बहुत ही अजीब लगता है.  सनी देओल की पुरानी फिल्मों के डायलॉग्स को ही ज्यादा इस्तेमाल किया गया है. संवाद और बेहतर किए जाते, तो मजा आता. फिल्म का संगीत और बैकग्राउंड स्कोर भी कमजोर है.

 क्यों देखें

सनी देओल , बॉबी देओल , श्रेयस तलपड़े की उम्दा एक्टिंग और परफेक्ट कॉमिक टाइमिंग के लिए. बहुत दिनों से बॉबी देओल को मिस कर रहे हैं, तो उनके अलग अवतार के लिए फिल्म देख सकते हैं.

 बॉक्स ऑफिस

प्रमोशन के साथ फिल्म का बजट 15 करोड़ रुपये बताया जा रहा है। ये फिल्म करीब 1000 स्क्रींस पर रिलीज हो रही है. पहले तीन दिन के कलेक्शन ही बता पायेंगे कि आखिरकार फिल्म का जादू चल पाता है या नहीं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें