scorecardresearch
 

असल जिंदगी में लिव इन या सरोगेसी को चांस देंगी कृति सेनन? दिया ये जवाब

कृति ने अपनी फिल्म 'लुका छुप्पी' में ऐसी लड़की का किरदार निभाया था जो कार्तिक आर्यन के साथ लिव इन में रहती है. वहीं फिल्म 'मिमी' में कृति सेनन ने ऐसी लड़की का किरदार निभाया था जो किसी और की सरोगेसी बनती है. ऐसे में कृति से पूछा क्या कि क्या वह असल जिंदगी में लिव इन या सरोगेसी को चांस देंगी?

X
कृति सेनन कृति सेनन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सरोगेसी से बदलती हैं जिंदगी बोलीं कृति सेनन
  • क्या लीन इन रिलेशनशिप को देंगी चांस?
  • आजतक एजेंडा में कृति सेनन ने बताया

आजतक एजेंडा 2021 में बॉलीवुड एक्ट्रेस कृति सेनन ने शिरकत की. इस इवेंट में कृति ने मॉडरेटर नेहा बाथम से बात की. कृति ने अपने साउथ करियर से लेकर बॉलीवुड करियर और निजी जिंदगी के बारे में बात की. कृति ने बताया कि फिल्म 'मिमी' में उनके लिए वजन बढ़ाना बेहद मुश्किल था. साथ ही उन्होंने बताया कि साउथ फिल्मों में काम करना उन्हें खास पसंद क्यों नहीं था.

लिव-इन रिलेशनशिप को चांस देंगी कृति?

कृति ने अपनी फिल्म 'लुका छुप्पी' में ऐसी लड़की का किरदार निभाया था जो कार्तिक आर्यन के साथ लिव इन में रहती है. वहीं फिल्म 'मिमी' में कृति सेनन ने ऐसी लड़की का किरदार निभाया था जो किसी और की सरोगेसी बनती है. ऐसे में कृति से पूछा क्या कि क्या वह असल जिंदगी में लिव इन या सरोगेसी को चांस देंगी?

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Kriti (@kritisanon)

कृति सेनन ने इसपर कहा कि वह मानती हैं कि इंसान को अपनी जिंदगी में कुछ करने से पीछे नहीं रहना चाहिए. लिव इन में कुछ भी गलत नहीं है. अगर आप मुझसे पूछो कि मैं आज ऐसा करूंगी तो मैं नहीं बोलूंगी, क्योंकि मैं अपने माता-पिता को जानती हूं. मेरी मां बहुत बिंदास व्यवहार करती हैं, लेकिन अगर मैं लिव इन में चली जाती हूं तो वह सवाल जरूर उठाएगीं.

कृति सेनन के लिए मोटा होना नहीं आसान, खाए छोले-भटूरे, बंद किया जिम, फिर बढ़ा वजन

सरोगेसी से बदलती हैं जिंदगी - कृति सेनन

कृति ने आगे कहा कि आज उन्हें नहीं लगता कि उन्हें लिव इन रिश्ते की जरूरत है. लेकिन कल अगर उन्हें महसूस हुआ कि वह ऐसे रिश्ते में हैं, जहां उन्हें अपने पार्टनर के साथ रिश्ते को शादी से पहले परखना है तो फिर देखा जाएगा. 

सरोगेसी के बारे में कृति सेनन ने कहा कि इसे लेकर कानून अब अलग है. मुझे नहीं लगता है कि अगर आपको परिवार चाहिए और बच्चे चाहिए और आप नॉर्मल तरह से मां नहीं बन पा रहे हो तो सरोगेसी को चांस नहीं देना चाहिए. सरोगेसी में कुछ भी गलत नहीं है. मुझे लगता है कि यह बढ़िया बात है. ये एक जिंदगी बदल देने वाली चीज है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें