scorecardresearch
 

नहीं रहे महाभारत में इंद्र का किरदार निभाने वाले एक्टर सतीश कौल, कोविड के चलते हुआ निधन

सतीश ने तमाम टीवी शोज और हिंदी व पंजाबी फिल्मों में काम किया था. उनके निधन पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शोक व्यक्त किया है. बता दें कि सतीश तकरीबन 300 फिल्मों का हिस्सा रहे थे.

सतीश कौशिक सतीश कौशिक
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लुधियाना में सतीश कौल का निधन
  • महाभारत में निभाया था इंद्र का किरदार
  • हिंदी-पंजाबी की 300 फिल्मों में किया था काम

बीआर चोपड़ा की महाभारत में इंद्र का किरदार निभा चुके टीवी एक्टर सतीश कौल का कोविड-19 के चलते लुधियाना में निधन हो गया है. सतीश ने तमाम टीवी शोज और हिंदी व पंजाबी फिल्मों में काम किया था. उनके निधन पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शोक व्यक्त किया है. बता दें कि सतीश तकरीबन 300 फिल्मों का हिस्सा रहे थे और उन्होंने शाहरुख खान, अमिताभ बच्चन, देव आनंद व दिलीप कुमार जैसे दिग्गज अभिनेताओं के साथ काम किया था.

कश्मीर में जन्मे सतीश की उम्र तकरीबन 72 साल थी और उम्र के आखिरी पड़ाव में वह तंगहाली से जूझ रहे थे. बता दें कि सतीश ने एक एक्टिंग स्कूल लुधियाना में शुरू किया था जिसमें उन्हें काफी घाटा हुआ और बाद में उन्हें इसे बंद करना पड़ा. उनका पारिवारिक जीवन भी कुछ खास अच्छा नहीं रहा था. सतीश की पत्नी ने उन्हें तलाक दे दिया था और अपने बच्चों के साथ वह अमेरिका शिफ्ट हो गईं.

सतीश की बड़ी हिट फिल्में
हिंदी और पंजाबी फिल्मों के अभिनेता सतीश ने प्यार तो होना ही था (1998), आंटी नं 1 (1998), जंजीर (1998), याराना (1995), ऐलान (1994), इल्जाम (1986), शिवा का इंसाफ (1985) और कसम जैसी फिल्मों में कई बड़े और दिग्गज अभिनेताओं के साथ काम किया था. पंजाबी फिल्मों की बात करें तो सतीश आजादी, शेरा दे पुत्त शेर, मौला जट्ट, गुड्डो, पटोला और पींगा प्यार दीयां जैसी फिल्मों का हिस्सा रहे.

मिला था लाइफटाइम अचीवमेंट
PTC पंजाबी फिल्म अवॉर्ड्स में सतीश कौल को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से नवाजा गया था. सतीश अपनी जिंदगी में कुछ सबसे बड़े प्रोजेक्ट्स का हिस्सा रहे हैं. उन्होंने बीआर चोपड़ा की महाभारत में काम करने से लेकर सदी के महानायक तक के साथ काम किया था लेकिन अपने आखिरी वक्त में वह बहुत तंगी में जीवन गुजार रहे थे. सतीश लुधियाना के विवेकानंद वृद्ध आश्रम में रह रहे थे और उनके पास अपने मेडिकल बिल चुकाने के लिए भी पैसा नहीं था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें