scorecardresearch
 

सुपौल लोकसभा सीट: रंजीत रंजन को एकजुट एनडीए की चुनौती?

सुपौल लोकसभा सीट: रंजीत रंजन को एकजुट एनडीए की चुनौती?

सुपौल लोकसभा सीट से कांग्रेस की सांसद रंजीत रंजन के सामने 2019 में एकजुट एनडीए की चुनौती है. सुपौल बिहार का एक हाईप्रोफाइल लोकसभा सीट माना जाता है. क्षेत्रफल के आधार पर सुपौल कोसी प्रमंडल का सबसे बड़ा जिला है. लोकगायिका शारदा सिन्हा एवं स्व. पंडित ललित नारायण मिश्र की धरती है सुपौल. सुपौल से वर्तमान सांसद हैं कांग्रेस की प्रवक्ता रंजीत रंजन जो मधेपुरा से सांसद और जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव की पत्नी हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में विजयी उम्मीदवार कांग्रेस की रंजीत रंजन को 332927 वोट हासिल हुए. नंबर दो पर रहे जेडीयू के दिलेश्वर कमैत जिन्हें 273255 वोट मिले. तीसरे स्थान पर रहे बीजेपी के उम्मीदवार कामेश्वर चौपाल को 249693 वोट मिले. सुपौल लोकसभा सीट के तहत विधानसभा की 5 सीटें आती हैं- निर्मली, पिपरा, सुपौल, त्रिवेणीगंज और छत्तापुर. 2015 के विधानसभा चुनाव में इन 5 सीटों में 3 जेडीयू, 1 आरजेडी और एक सीट जीतने में बीजेपी कामयाब रही. इस लोकसभा क्षेत्र में वोटरों की संख्या 1,279,549 है. महिला मतदाता 606,645 जबकि पुरुष मतदाता 672,904 हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें