scorecardresearch
 

UP: BJP ने अखिलेश पर फिर किया हमला, लिखा- आजमगढ़ से 'गुमशुदा' सांसद की तलाश

यूपी बीजेपी ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर वार करते हुए उन्हें गुमशुदा करार दिया और कहा कि वह अपने संसदीय क्षेत्र से गायब हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (File-PTI) पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (File-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी ने अखिलेश पर वार करते हुए गुमशुदा करार दिया
  • 'एसी में बैठकर दिनभर ट्वीट करने का काम करते हैं अखिलेश'
  • आरोप, अपने संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ से गायबः बीजेपी

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों की ओर से विपक्षी दलों पर हमले तेज होते जा रहे हैं. यूपी बीजेपी ने अब समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर वार करते हुए उन्हें गुमशुदा करार दिया और कहा कि वह अपने संसदीय क्षेत्र से गायब हैं.

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की प्रदेश इकाई ने अखिलेश यादव को गुमशुदा बताते हुए फिर से हमला किया. यूपी बीजेपी के ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर आजमगढ़ के सांसद के तौर पर अखिलेश को गुमशुदा बताया गया है. इसमें उनकी तस्वीर के साथ यह भी लिखा है कि एसी में बैठकर दिनभर ट्वीट करने का काम करने वाले अखिलेश अपने संसदीय क्षेत्र से गायब हैं.

अपने इसी ट्वीट में बीजेपी ने आगे लिखा, नोट:- आज ही इन्हें ट्विटर पर 'रामनवमी' की शुभकामनाएं देते पाया गया था. कोई जानकारी मिलने पर...

इसे भी क्लिक करें --- महानवमी पर रामनवमी की बधाई! अखिलेश के ट्वीट पर बीजेपी ने कसा तंज

समाजवादी पार्टी का पलटवार
समाजवादी पार्टी के मीडिया कंसल्टेंट आशीष यादव ने बीजेपी के पोस्ट पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लापता बताया. यूपी बीजेपी के पोस्ट पर जवाब देते हुए उन्होंने लिखा है कि मुख्यमंत्री के काम के तौर पर योगी आदित्यनाथ ने सिर्फ सपा सरकार के कामों का फीता काटा है. महाराज जी कहां हो लापता? साढ़े चार साल से यूपी का विकास पूछ रहा आपका पता.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी साधा था निशाना

इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी अखिलेश यादव पर ट्वीटर को लेकर हमला कर चुकी हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने आजतक के साथ खास बातचीत में अखिलेश यादव के उस बयान कि मैं प्रियंका पर नहीं बोलना चाहता वो कमरे में रहती हैं, पर हमला करते हुए कहा, 'वो बाहर निकलेंगे तो पता चलेगा कि मैं कहां रहती हूं. लेकिन आपने डेढ़ सालों में आपने कब देखा है उन्हें सड़क पर. मुझे देखा कि नहीं.'

प्रियंका गांधी ने आगे कहा, 'आपने मुझे हाथरस में देखा है. मुझे उन्नाव में देखा. मुझे सोनभद्र में देखा है. मुझे यहां देखा आपने. मेरी पार्टी को सड़क पर देखा. कोरोना के समय में मेरी पार्टी ने सबसे ज्यादा मदद का काम किया. मेरी पार्टी लगातार जिलों में प्रदर्शन कर रही है, शहरों में प्रदर्शन कर रही है, जबकि उनकी पार्टी क्यों नहीं दिख रही कहीं पर. वो कमरे में बंद रहते हैं क्योंकि उनकी राजनीति अब सीमित हो गई है ट्वीट तक, अपने कार्यकर्ताओं से मिलना और अपने नेताओं से मिलना.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें