scorecardresearch
 

जिसका साथ छोड़ता हूं, उसका अता-पता नहीं रहता, बहनजी को देख लोः स्वामी प्रसाद मौर्य

स्वामी प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार को आधिकारिक रूप से समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर ली. इस मौके पर अखिलेश यादव की मौजूदगी में मौर्य ने बीजेपी के साथ-साथ बसपा पर भी जमकर हमला बोला.

स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी सहित सपा ज्वॉइन करने वाले विधायक. स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी सहित सपा ज्वॉइन करने वाले विधायक.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आधिकारिक रूप से सपा में शामिल हुए मौर्य
  • योगी सरकार में संभाल चुके हैं श्रम मंत्रालय

भारतीय जनता पार्टी (BJP) का दामन छोड़ने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी सैनी सहित 8 विधायकों ने शुक्रवार को आधिकारिक रूप से समाजवादी पार्टी से नाता जोड़ लिया. अखिलेश यादव की मौजूदगी में सबको पार्टी की सदस्यता दिलाई गई. इस मौके पर स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी के साथ-साथ बहुजन समाज पार्टी पर भी जमकर जुबानी हमला किया. 

बसपा से भाजपा और फिर सपा में पहुंचे मौर्य ने कहा, मैं यह भी चुनौती देता हूं कि जिसका साथ छोड़ता हूं, उसका अता-पता नहीं रहता. बहनजी (मायावती) इसका जीता जागता उदाहरण हैं. वह बाबा साहब और कांशीराम के सिद्धांतों से हट गई थीं, उनको घमंड हो गया था. बहन मायावती ने दूसरा नारा दिया कि 'जिसकी जितनी तैयारी, उसकी उतनी भागीदारी.' वह थैली वालों के साथ खड़ी हो गई थीं.

मौर्य ने अपने भाषण में आगे कहा, बीएसपी तब नंबर-1 और बीजेपी तीसरे स्थान पर थी और जैसे ही मैंने बीएसपी छोड़ी तो बीजेपी आसमान पर चढ़ गई. लेकिन पर अब मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि आपके भी बुरे दिन आ गए हैं. मेरे साथ कई लोग आ रहे हैं, इस्तीफा देने का सिलसिला चलता रहेगा.

उन्होंने कहा कि आज corona महामारी और आचार संहिता के चलते केवल प्रमुख लोगों को बुलाया गया है, तब भी विक्रमादित्य मार्ग से लेकर कालिदास मार्ग हमारे समर्थकों से पटा पड़ा है. आज अगर पाबंदियां न होतीं तो ऐसा कार्यक्रम होता कि बीजेपी की नींद उड़ जाती. मैं दावे के साथ कहता हूं कि 2022 के चुनाव में जब परिणाम आएगा, तब बीजेपी को 2017 से पहले के आंकड़ों पर लाकर खड़ा कर दूंगा. 

केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार पर आक्रामक सपा नेता मौर्य ने कहा, बीजेपी को कहना चाहता हूं कि 14 जनवरी का यह जो कार्यक्रम हो रहा है, आज के बाद एक ऐसी सुनामी चलेगी जिसमें बीजेपी के परखच्चे उड़ जाएंगे. स्वामी मौर्य ने पार्टी भले न बनाई हो, पर किसी पार्टी से हैसियत कम नहीं रखते हैं, जनाधार की कमी नहीं है. अखिलेश से हाथ इसलिए मिलाया, क्योंकि वह नौजवान हैं, पढ़े लिखे हैं और ऊर्जावान हैं. दावा करते हैं कि करोड़ों का हुजूम खड़ाकर आपके साथ बीजेपी को उखाड़ फेकेंगे.

योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री का पद छोड़ने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य बोले कि कुंभकर्ण की नींद सो रहे बीजेपी के बड़े नेताओं को विधायकों-मंत्रियों से बात करने का वक्त नहीं था. अब हमारे लोगों  के इस्तीफा देने के बाद उनकी नींद हराम हो गई है. बीजेपी के लोग कह रहे हैं कि मैंने 5 साल बाद इस्तीफा दिया. कुछ यह भी कह रहे हैं कि बेटे के चक्कर में बीजेपी छोड़ी है. मैं कहना चाहता हूं कि बीजेपी ने दलितों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों की आंखों में धूल झोंककर सत्ता पाई थी. केशव मौर्य और स्वामी मौर्य का नाम उछाल कर सरकार बनाई थी. चर्चा थी कि सीएम होंगे केशव या स्वामी, लेकिन हुआ क्या? फिर गोरखपुर से लाकर सीएम बना दिया और पिछड़ों के साथ धोखा कर दिया. आज सरकार बनाएं पिछड़े-दलित और मलाई खाएं 5 प्रतिशत लोग.

स्वामी बोले कि बीजेपी 80-20 (वोट शेयर) का नारा देती है. मैं कहता हूं कि 80-20 नहीं अब 15-85 फीसदी होगा. 85 फीसदी हमारा है, 15 में भी बंटवारा है. मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठकर योगी पाप करते हैं और हिंदुओं की दुहाई देते हैं. क्या आपकी नजर में कुछ बड़ी जाति के ही हिंदू हैं, वही 10 से 5 प्रतिशत. फिर तो आपका बिस्तर पैक होना तय है. वह बोले कि अब सब एक साथ खड़े होंगे आज जिन 10 प्रतिशत को आप हिंदू मानते हो, उनमें भी बंटवारा होगा क्योंकि उसमें भी कुछ समाजवादी और अंबेडकरवादी हैं. 

बीजेपी सरकार पर हमलावर मौर्य ने अपने आरोपों में कहा, केंद्र में 30 से 32 आईएएस इंटरव्यू के जरिए लगातार चुने जा रहे हैं, लेकिन उनमें एक भी पिछड़ा वर्ग नहीं है, वह भी तो हिंदू हैं. इसका मतलब यह दलित आज भी आपके लिए अछूत और नीच है. आपके लिए वह इंसान नहीं, जानवर से बदतर है.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाषण में कहा, शुरुआती दिनों में मैं मुलायम के साथ उनका महामंत्री था. अब नेताजी चरखा दांव नहीं लगाएंगे, बल्कि उनकी पूरी फौज यह दांव लगाकर बीजेपी को ऐसी पटखनी देगी कि यह समझ ही नहीं पाएंगे. उन्होंने बीजेपी में चाणक्य कहे जाने वाले नेताओं को लेकर कहा कि जितने दांव हैं, लगा लो, मगर मैं आपको मिट्टी में मिलाकर रहूंगा, बीजेपी को हराकर रहूंगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×