scorecardresearch
 

अखिलेश ने की आगरा और पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की तुलना, बोले- बाबा की सड़क पर तो कमर दर्द हो जाएगा

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई हैं. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने आज अंबेडकर नगर के महरौली में चुनावी रैली को संबोधित किया. यहां उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी को जमकर घेरा.

X
अखिलेश यादव ने आज अंबेडकर नगर में रैली की. (फाइल फोटो-पीटीआई) अखिलेश यादव ने आज अंबेडकर नगर में रैली की. (फाइल फोटो-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी में चुनाव का प्रचार तेज
  • अखिलेश का मोदी-योगी पर तंज
  • आगरा और पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की तुलना

समाजवादी पार्टी के मुखिया और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने रविवार को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन पर प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ पर तंज कसा.

अखिलेश ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से अच्छा नहीं है. आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे में गाड़ी पर चाय का कप भी रख दो तो भी नहीं गिरता, लेकिन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में कमर दर्द होने लगेगा. अखिलेश ने माफियाओं पर बुलडोजर चलाने वाली बात पर कहा कि हम समाजवादी हैं, हम लैपटॉप देना भी जानते हैं और जरूरत पड़ने पर बुलडोजर चलाना भी जानते हैं.

अखिलेश ने ये सारी बातें अंबेडकर नगर के महरौली में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहीं. अखिलेश ने कहा, सुनने में आ रहा है पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन होने जा रहा है. आगरा-लखनऊ के मुकाबले पूर्वाचल की सड़क आस पास नही है. आगरा एक्सप्रेस वे पर अगर पानी का ग्लास भी रख दोगे, चाय भी रख दोगे तो नही गिरेगी और बाबा ने जो सड़क बना दी है अगर गाड़ी की स्पीड बढ़ा दी तो कमर दर्द और पेट दर्द हो जायेगा. अगर चाय पानी रख दिया तो कपड़ों पर गिरेंगी और दोबारा नहीं पहन पाओगे.

सपा प्रमुख ने सीएम योगी के बुलडोजर चलाने वाली बातों पर तंज कसते हुए कहा कि जहां जरूरत थी, वहां तो बुलडोजर चलाया है. अखिलेश ने कहा कि अगर धुंआ उड़ाते हुए बुलडोजर चला दिया होता तो आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से अच्छी सड़कें पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की होतीं. उन्होंने आगे कहा, अब बोल रहे हैं कि लैपटॉप-टैबलेट देंगे. 4-5 साल से कौनसी टैबलेट बांट रहे थे. आपका सीएम ऐसा नहीं होना चाहिए जिसे लैपटॉप चलाना न आता हो. तभी तो नहीं बांटा. अखिलेश ने कहा कि लैपटॉप लेकर आओ बुलडोजर नहीं. हम तो समाजवादी हैं समय पड़ेगा तो लैपटॉप भी चला लेंगे और जरूरत पड़ी तो बुलडोजर भी चला लेंगे.

ये भी पढ़ें-- वो वजह जो सीएम फेस होने के बावजूद अखिलेश यादव को चुनाव लड़ने से रोक रही है

तीन इंजन वाली सरकार ने कुचलने का काम किया

अखिलेश ने कहा कि जबसे यूपी में बीजेपी सरकार आई है तब से किसानों के साथ धोखा हुआ है. उन्होंने लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा का जिक्र करते हुए कहा कि दिल्ली, यूपी और लखीमपुर में जो मंत्री हैं इन्होंने, तीन इंजन वाली सरकार ने, किसानों को कुचलने का काम किया है.

उन्होंने कहा कि बिजली के दाम बढ़ गए हैं. पेट्रोल 100 रुपये के पार पहुंच गया है. गैस सिलेंडर की कीमतें बढ़ती जा रही हैं. अखिलेश ने सीएम योगी के नाम बदलने वाले फैसलों पर तंज कसते हुए कहा कि जो लोग हमारी लाल टोपी देखकर जलते हैं वो लाल सिलेंडर का नाम भी बदल देंगे. 

अखिलेश ने कहा कि इतिहास पढ़ना चाहिए. ईस्ट इंडिया कंपनी आई, ब्रिटेन में एक कानून पास हो गया और यहां आ गए. यहां भी एक-एक कर सरकारी संपत्तियां बेच रहे हैं और प्राइवेट कंपनियों लगातार ला रहे हैं. अखिलेश ने आरोप लगाया कि सरकार उद्योगपतियों के हाथों खेल रही है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें