scorecardresearch
 

UP: आगरा में टिकट पाने के लिए घमासान, दो बीजेपी नेताओं के समर्थकों में जमकर पथराव, गाड़ियों के शीशे फोड़े

एक दौर में पूर्व ब्लॉक प्रमुख सुग्रीव सिंह चौहान, पूर्व मंत्री राजा अरिदमन सिंह के बेहद करीबी थे. लेकिन अब सियासी दांव-पेंच के बीच दोनों के बीच दुश्मनी ठन गई है. समाजवादी पार्टी की सरकार में अरिदमन सिंह कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.

X
आगरा: चंबल के बीहड़ों की बाह विधानसभा अचानक सुर्खियों में आ गई.
आगरा: चंबल के बीहड़ों की बाह विधानसभा अचानक सुर्खियों में आ गई.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अरिदमन सिंह और सुग्रीव चौहान के समर्थक भिड़े
  • अखिलेश सरकार में मंत्री रह चुके हैं अरिदमन

आगरा के बाह विधानसभा क्षेत्र में भदावर महाराज के नाम से पहचान रखने वाले पूर्व मंत्री अरिदमन सिंह और पूर्व ब्लॉक प्रमुख सुग्रीव सिंह चौहान के समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हो गई. दोनों  के सैकड़ों समर्थक आमने-सामने आ गए और जमकर पथराव हुआ. उपद्रव में भारतीय जनता पार्टी का झंडा लगी आधा दर्जन से अधिक गाड़ियों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया. मौके पर पहुंचे भारी पुलिस बल ने हालात को जैसे-तैसे नियंत्रित किया.

यह पूरा मामला बाह विधानसभा सीट से भाजपा का टिकट पाने की दावेदारी से जुड़ा हुआ है. टिकट की दावेदारी को लेकर पूर्व मंत्री और पूर्व ब्लॉक प्रमुख के बीच वर्चस्व की जंग छिड़ी हुई है. विधानसभा क्षेत्र में विरोधियों को अपनी ताकत दिखाने के लिए पूर्व मंत्री और मौजूदा भाजपा की विधायक रानी पक्षालिका सिंह के पति राजा अरिदमन सिंह अपने समर्थकों की भीड़ के साथ पिनाहट कस्बे से जन-जागरण रैली निकाल रहे थे, लेकिन नंदगवा चौराहे पर अरिदमन सिंह और सुग्रीव सिंह के समर्थक आमने-सामने आ गए. पहले गाली गलौच हुई और फिर पथराव शुरू हो गया. पथराव होते ही बाजार में भगदड़ मच गई और दुकानदारों ने दुकानें बंद कर लीं. सूचना मिलते ही कई थानों का पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा और स्थिति को नियंत्रण में किया गया. 

बाह विधानसभा में बीजेपी समर्थकों के बीच उपद्रव.

भारी पुलिस बल तैनात 
घटना को रोकने और उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई कराने के लिए आगरा से तत्काल एसपी सिटी को मय फोर्स के साथ घटनास्थल पर रवाना किया गया. एसपी सिटी विकास कुमार का इस मामले में कहना है कि मामले में जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. साथ ही उपद्रव की गंभीरता को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.  

एक-दूसरे पर पथराव करते बीजेपी नेताओं के समर्थक.

कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं अरिदमन सिंह
एक दौर में पूर्व ब्लॉक प्रमुख सुग्रीव सिंह चौहान, पूर्व मंत्री राजा अरिदमन सिंह के बेहद करीबी थे. लेकिन अब सियासी दांव-पेंच के बीच दोनों के बीच दुश्मनी ठन गई है. समाजवादी पार्टी की सरकार में अरिदमन सिंह कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं. हालांकि, बीजेपी नेताओं से नजदीकियों के कारण सीएम अखिलेश यादव ने अरिदमन को मंत्रि‍मंडल से हटा दिया था. इसके बाद विधानसभा चुनाव के ठीक पहले यानि साल 2017 में बीजेपी के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य की मौजूदगी में अरिदमन सिंह ने पत्नी पक्षालिका सिंह समेत भाजपा का दामन थाम लिया था. 

राजनाथ सिंह सरकार में भी रह चुके हैं मंत्री
अरिदमन सिंह अपनी पुस्तैनी सीट बाह से 3 बार विधायक रह चुके हैं. यूपी के तत्कालीन सीएम राजनाथ सिंह के मंत्रिमंडल में भी उन्हें मंत्री बनाया गया था. अरिदमन ने पिछले विधानसभा चुनाव से पहले दूसरी बार कमल का झंडा थामा था.

देखें, उपद्रव का वीडियो:-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें